खजुराहो को दिल्ली से सीधा जोड़ेगी नई टे्रन

गीता जयंती एक्सप्रेस को खजुराहो तक बढ़ाने का प्रस्ताव

टीकमगढ़. उत्तर मध्य रेलवे ने गीता जयंती एक्सप्रेस टे्रन को खजुराहो तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है। डीआरएम झांसी को दिए गए इस प्रस्ताव पर विचार किया जा रहा है। यदि इस ट्रेन को खजुराहो तक बढ़ाया जाता है तो यह रेल सेवा खजुराहो को सीधा दिल्ली तक जोड़ देगी। लेकिन इसका टीकमगढ़ एवं छतरपुर के लोगों को कोई फायदा नहीं होगा। क्यों कि इसमें टीकमगढ़ और छतरपुर स्टेशन पर स्टोपेज प्रस्तावित नहीं किया गया है।
यदि सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही गाड़ी संख्या 11901/02 गीता जयंती एक्सप्रेस को खजुराहो तक बढ़ा दिया जाएगा। वर्तमान में यह ट्रेन कुरूक्षेत्र से चलकर दिल्ली होते हुए मथुरा तक आती है। इस टे्रन को अब मथुरा से अगरा, धोलपुर, ग्वालियर, झांसी एवं ललितपुर होते हुए खजुराहो तक बढ़ाने का प्रस्ताव उत्तर मध्य रेवले द्वारा भेजा गया है।
बढ़ेगी 821 किलोमीटर की दूरी: यदि रेलवे इस ट्रेन को खजुराहो तक बढ़ाता है तो ट्रेन को मथुरा से खजुराहो तक 821 किलोमीटर की अधिक दूरी तय करनी होगी। इसके लिए टे्रन को 17 घंटे 5 मिनिट का अतिरिक्त समय लगेगा। यदि झांसी डीआरएम जांच के बाद इसे स्वीकृत करते है तो यह एक नई ट्रेन खजुराहो तक जाने लगेगी।
टीकमगढ़-छतरपुर को नहीं होगा फायदा
इस ट्रेन के खजुराहो तक बढऩे से टीकमगढ़-छतरपुर जिले के लोगों कोई लाभ नहीं होगा। क्यों कि प्रस्ताव में जिन स्टेशनों पर स्टोपेज दिखाया गया है, उनमें टीकमगढ़-छतरपुर स्टेशन शामिल नहीं है। ऐसे में यदि यह ट्रेन शुरू होती है तो लोगों को कोई लाभ नहीं होगा। इसके लिए यदि जिले के जनप्रतिनिधि प्रयास करें तो यह सुविधा जिले के लोगों को मिल सकती है।

Sanket Shrivastava
और पढ़े
Web Title: Proposal to extend Geeta Jayanti Express to Khajuraho
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।