राज्य में 6000 करोड़ निवेश करेगा अडानी समूह, 3500 को मिलेगा रोजगार

By: vinod saini

Updated On:
15 Aug 2019, 02:20:41 AM IST

  • राज्य सरकार (State government) की योजना परवान चढ़ी तो जल्द ही अडानी समूह (Adani Group) राजस्थान में करीब 6000 करोड़ (6000 crores) रुपए का निवेश करेगा। समूह ने डेटा सेंटर और सोलर एनर्जी (Data Center and Solar Energy) में निवेश (Investment) की ईच्छा जताई है। इससे 3500 लोगों को रोजगार (Employment) भी मिल सकेगा।

-प्रदेश में बन रहा है औद्योगिक निवेश का माहौल

-डेटा सेंटर और सोलर एनर्जी में निवेश करेगा अडानी समूह

जयपुर। राजस्थान में निवेश (Investment) को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार (State government) की ओर से उठाए जा रहे कदमों का अब फायदा मिलता नजर आ रहा है। कोयला व्यापार, कोयला खनन तथा बिजली निर्माण क्षेत्र में कार्यरत अडानी समूह (Adani Group) राज्य में करीब 6000 करोड़ (6000 crores) रुपए निवेश करेगा। इसके राज्य में करीब 3500 लोगों को रोजगार (Employment) भी मिलेगा। उद्योग भवन के ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन (Bureau of investment promotion) में आयुक्त गौरव गोयल के साथ बुधवार को हुए संवाद कार्यक्रम में अडानी समूह के प्रतिनिधियों ने यह जानकारी दी।
राज्य में निवेश को बढ़ावा देने के लिए ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन की ओर से औद्योगिक निवेश, विस्तार कार्यक्रम तथा रोजगार सृजन बढ़ाने के लिए उद्योगपतियों से लगातार वार्तालाप की जा रही है। बुधवार को हुए चर्चा कार्यक्रम में अडानी समूह ने प्रदेश में डेटा सेंटर और सोलर एनर्जी (Data Center and Solar Energy) क्षेत्र में करीब छह हजार करोड़ के नए निवेश में रुचि दिखाई है। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा है कि प्रदेश में तेजी से औद्योगिक निवश का माहौल बनने लगा है। उन्होंने कहा कि बड़े औद्योगिक प्रतिष्ठान विस्तार कार्यक्रमों में भी राजस्थान को प्राथमिकता दे रहे हैं।
3500 को मिलेगा रोजगार
विचार-विमर्श के दौरान अडानी समूह के प्रतिनिधि आरके जैन और पंकज सिंह ने बताया कि राजस्थान और गुजरात सोलर एनर्जी के उत्पादन के लिए उपयुक्त होने के साथ उनका समूह राजस्थान में डेटा सेंटर स्थापित करना चाहता है। उन्होंने बताया कि आगामी पांच से सात साल में 100 मेगावाट डेटा सेंटर प्रदेश में लगाया जाना प्रस्तावित है। इसके लिए जयपुर के आसापास या प्रदेश के अन्य स्थान पर भूमि उपलब्ध कराने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि इससे प्रदेश में करीब 3500 लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रोजगार उपलब्ध हो सकेगा।
गौरतलब है कि इससे पहले हीरो मोटो क्रोप, यजाकी, चंबल फर्टिलाइजर, आरएसड्ब्लूएम सहित कई प्रमुख औद्योगिक प्रतिष्ठानों से बारी-बारी से विस्तार कार्यक्रम आदि पर विस्तार से चर्चा की जा चुकी है।

जयपुर एयरपोर्ट में भी दिखाई रुचि
अडानी समूह ने इससे पहले जयपुर एयरपोर्ट सहित देश के पांच एयरपोर्ट को अपग्रेड और ऑपरेट करने के लिए भी बोली लगाई थी। इन एयरपोर्ट में लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, मेंगलूरु तथा त्रिवेंद्रम शामिल हैं।

 

Updated On:
15 Aug 2019, 02:20:41 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।