कांग्रेसियों में खींचतान देख फूट-फूट कर रोईं कांग्रेस प्रत्याशी

By: Amit Sharma

Updated On: Mar, 27 2019 08:18 AM IST

  • प्रीता हरित ने कहा - समाजसेवा के लिए भारत सरकार की नौकरी छोड़ी है न कि कांग्रेस का ड्रामा देखने के लिए।

आगरा। कांग्रेस प्रत्याशी प्रीता हरित ने भारतीय राजस्व सेवाकी अधिकारी के नेता न जाने कितने लोगों को रुलाया गया। भारत सरकार की नौकरी छोड़कर वे आगरा लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस की प्रत्याशी हैं। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ पहली बैठक की। इस दौरान इतनी खींचतान हुई कि वे रोने लगीं। बता दें कि प्रीता हरित का चयन तीन बार आईपीएस के रूप में हुआ। अंततः उन्होंने आईआरएस को चुना। वे मेरठ मंडल में आयकर आयुक्त के रूप में सेवा दे चुकी हैं।

preeta harit

वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं से हुईँ रूबरू

कांग्रेस की लोकसभा प्रत्याशी प्रीता हरित के चुनावी अभियान को गति देने के लिए घटिया स्थित हरियाली वाटिका में कार्यकर्ताओं की आवश्यक बैठक का आयोजन किया। शहर अध्यक्ष अबरार हुसैन, जिला अध्यक्ष दुष्यंत शर्मा के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और फ्रंटल संगठन के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे। बैठक के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी प्रीता हरित सभी वरिष्ठ कांग्रेसियों से रूबरू हुईं। उनके साथ इ चुनाव को जीतने के लिए रणनीति तैयार की गयी। इस चुनाव को लड़ने के लिए कंग्रेसियों ने अपने अपने विचार रखे और उन्हें अमल में लाये जाने की अपील की।

preeta harit

संगठन नाम की चीज नहीं

सभी कांग्रेसियों के विचार रखने के बाद जैसे ही प्रत्याशी प्रीता हरित कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के लिए खड़ी हुईं, संगठन में चल रही खींचतान को लेकर उनका आक्रोश फूट गया। उनका कहना था कि संगठन पार्टी की धुरी होता है, लेकिन शहर में संगठन नाम की चीज नहीं है। पदाधिकारी एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप करने में लगे हुए है। संगठन की खींचतान पहले दिन ही आगरा आगमन पर देख ली, जिसने उन्हें आहत कर उनकी दृढ़ शक्ति को हिलाकर रख दिया है। इस दौरान उनके आंसू भी निकल आए।

preeta harit

कांग्रेस का ड्रामा देखने के लिए नौकरी नहीं छोड़ी

रोते हुए उन्होंने कहा कि समाजसेवा के लिए उन्होंने भारत सरकार की नौकरी छोड़ी थी न कि कांग्रेस का ड्रामा देखने के लिए। प्रत्याशी प्रीता हरित ने संगठन की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए जमकर बरसी। फिर उन्हें संगठन का पाठ भी पढ़ा दिया। जिस तरह से प्रत्याशी ने अपना आक्रोश जताया उससे साफ है कि प्रत्याशी अपनी पार्टी से खुश नहीं है। बैठक में डॉ. मधुरिमा शर्मा, चौ. बच्चू सिंह, इंजीनियर बसंतलाल, गीता सिंह, कपिल गौतम, अजय सरपाल, परवाज अंजुम शाह, एसके नारंग, दिनेश बाबू शर्मा, शब्बीर अब्बास, सतेन्द्र कैम, बांके लाल, विशाल सरपाल आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

Published On:
Mar, 27 2019 08:18 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।