पाकिस्तान: पत्नी की अंतिम रस्मों में शामिल होने के लिए नवाज शरीफ की पैरोल तीन दिन बढ़ाई

By: Navyavesh Navrahi

Updated On:
12 Sep 2018, 05:36:11 PM IST

  • पैरोल मिलने पर नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद जेल से रिहा होने के बाद आज तड़के लाहौर पहुंच गए।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम का मंगलवार को लंदन में निधन हो गया था। इसलिए नवाज, उनकी बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (रिटा.) मोहम्मद सफदर को आदियाला जेल से रिहा कर दिया गया था। कुलसुम की अंतिम रस्मों में शामिल होने के लिए पहले उन्हें 12 घंटे की पैरोल दी गई थी। अब उनकी पैरोल बढ़ाकर तीन दिन कर दी गई थी।

ट्रंप की सुरक्षा में तैनात होंगे लुधियाना के बेटे अंशदीप सिंह भाटिया, लड़नी पड़ी थी कानूनी लड़ाई

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- पाकिस्तानी पंजाब के मुख्यमंत्री उसमान बजदर ने जानकारी दी है कि नवाज, मरियत और सफदर की पैरोल अवधि तीन दिन के लिए बढ़ाई गई है। उन्होंने कहा कि- तीनों को पैरोल पर रिहा करने में पूरी तरह से कानून का पालन किया जा रहा है। उन्होंने इस बात से इनकार किया कि नवाज के जटी उमरा स्थित निवास को उप-जेल घोषित कर दिया गया है।

अमरीका: 'हाउ टू मर्डर योर हस्बैंड' की लेखिका नैन्सी क्राम्पटन पति की हत्या के आरोप में गिरफ्तार

लंदन रवाना हुए शहबाज

पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी और अपनी भाभी कुलसुम नवाज का पार्थिव शरीर लेने के लिए लंदन के लिए रवाना हो गए। वे अल्लामा इकबाल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से लंदन के लिए रवाना हुए। बता दें, कुलसुम लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थीं।

अफगानिस्तान में सुरक्षाबलों का बड़ा अभियान, तालिबान के 58 आतंकवादी मारे गए

रीजेंट पार्क ईदगाह में होगी जनाजे की नमाज

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- बेगम कुलसुम के जनाजे की नमाज गुरुवार दोपहर रीजेंट पार्क ईदगाह में अदा की जाएगी। कानूनी प्रक्रिया के बाद कुलसुम का पार्थिव शरीर पाकिस्तान के लिए भेजा जाएगा। शरीफ के परिजनों के अनुसार- कुलसुम को शुक्रवार को जाती उमरा में दफनाया जाएगा। गौर हो, कुलसुम (68) गले के कैंसर से पीड़ित थीं। जिसके बाद लंदन में उनकी कई बार सर्जरी की गई और और कीमोथेरेपी दी गई। जून में हार्ट अटैक होने के बाद वे वेंटिलेटर पर थीं।

पाकिस्तान: कोयला खदान विस्फोट में नौ लोगों की मौत, मलबे में तीन मजदूरों के फंसे होने की आशंका

बहुत दुखी हूं: मरियम

शरीफ की बेटी मरियम ने कहा कि उन्हें इस बात का बहुत दुख है कि वे अंतिम समय में अपनी मां के पास मौजूद नहीं थीं। उन्होंने कहा- ‘मैं बेहद दुखी हूं।’बेगम कुलसुम के निधन के बाद पैरोल मिलने के बाद रावलपिंडी स्थित अडियाला जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मोहम्मद सफदर को 12 पैरोल पर रिहा होके के बाद बुधवार तड़के लाहौर पहुंचे थे। नवाज, मरियम और कैप्टन (रिटा.) मोहम्मद सफदर फिलहाल अपने जाती उमरा निवास में हैं, जहां वह अपने परिजनों और पार्टी नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं।

Updated On:
12 Sep 2018, 05:36:11 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।