सड़क खराब थी तो ट्रैक्टर चलाकर गांव पहुंचे विधायक, अधिकारियों की भी बैठाया, फिर किया गांव का दौरा

By: Pawan Tiwari

Updated On:
25 Aug 2019, 11:40:39 AM IST

  • भारी बारिश के कारण कच्चे सड़क में कीचड़ था।

अशोकनगर. मध्यप्रदेश की सड़कों के हाल ये हैं कि खुद सत्ता धारी पार्टी के विधायकों की गाड़ियां भी उस स्थान तक नहीं पहुंच पा रही हैं जहां उन्हें जाना होता है। दरअसल, अशोकनगर जिले के मुंगावली से कांग्रेस विधायक बृजेंद्र सिंह यादव अशोकनगर के सिंगारदा गांव में एक कॉलेज भवन के निर्माण के लिए जमीन देखने पहुंचे थे, लेकिन कच्ची सड़क में कीचड़ होने की वजह से उनकी गाड़ी आगे तक नहीं जा सकी। मजबूरन उन्हें खुद ट्रैक्टर चलाकर उस जगह तक पहुंचना पड़ा। हालांकि इस दौरान विधायक ने कहा कि बहुत दिनों से टैक्ट्रर नहीं चलाया था तो ट्रैक्टर चला लिया।

 

दरअसल, विधायक बृजेंद्र सिंह यादव अधिकारियों के साथ खलीलपुर और सिंगारदा गांव में स्कूल भवन के लिए जमीन देखने पहुंचे थे। लेकिन सिंगारदा गांव का पहुंच मार्ग कच्चा है और भारी बारिश के कारण उनकी गाड़ी आगे नहीं जा सकी। इस कारण मुंगावली विधायक बृजेंद्र सिंह यादव ट्रैक्टर चलाकर सिंगारदा गांव पहुंचे। इस दौरान ट्रैक्टर पर एसडीएम, तहसीलदार सहित कई अधिकारी भी बैठे रहे।

 

क्या कहा विधायक ने
विधायक बृजेंद्र सिंह यादव ने कहा कि यहां के लिए सड़क बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल चुकी है, लेकिन बारिश के कारण अभी काम रूका हुआ है। उन्होंने कहा कि स्कूल के लिए जो जमीन पहले आवंटित की गई थी वहां पर ग्रामीणों को आपत्ति थी उसके बाद दूसरी जगह भवन बनाने का योजना है जिसकी जमीन मैं अधिकारियों के साथ देखने गया था। लेकिन सड़क में कीचड़ होने के कारण हमारी गाड़ी वहां तक नहीं पहुंच सकती थी जिसके बाद हमें ट्रैक्टर का सहारा लेना पड़ा और हम वहां जमीन का मुआयना करके आए। करीब डेढ़ किमी की सड़क खराब है। विधायक ने कहा- मुझे टैक्ट्रर चलाने की आदत है तो मैं डेढ़ किमी तक ट्रैक्टर चलाया। वहीं, अधिकारी ने बताया कि हमें सुझाव दिया गया कि टैक्ट्रर के सहारे हम उस जगह तक पहुंच सकते हैं जिसके बाद विधायक ने खुद टैक्ट्रर चलाने का फैसला किया।

Updated On:
25 Aug 2019, 11:40:39 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।