अस्पताल से बिना उपचार कराए लौट रहे मरीज, पर्ची के लिए कतार में कर रहे घंटों मशक्कत

By: pawan sharma

|

Published: 25 Aug 2019, 04:04 PM IST

Tonk, Tonk, Rajasthan, India

दूनी. सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दूनी में शुरू हुए ऑनलाइन पर्ची काउंटर व उस पर बैठे कम्प्यूटर ऑपरेटर को कार्य का अनुभव नहीं होने से मरीजों को घंटों कतार में खड़े होकर पर्ची के लिए मशक्कत करनी पड़ रही है, साथ वृद्ध, असहाय व अन्य गंभीर रोग से ग्रस्त रोगी तो कतार देख बिना उपचार कराए स्वास्थ्य केन्द्र से लौट कस्बे के झोलाछाप चिकित्सकों से महंगे दामों से उपचार कराना पड़ रहा है।

 

इससे मरीजों को विभाग की नि:शुल्क योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। उल्लेखनीय है की स्वास्थ्य केन्द्र में ऑफलाइन बंद कर ऑनलाइन पर्ची शुरू किए जाने से मरीजों को अधिक परेशानी होने लगी है। वही पर्ची काउंटर पर कम अनुभवी ऑपरेटर नियुक्त किए जाने से मरीजों व परिजनों को घंटों कतार में लग पर्ची लेनी पड़ रही है, इसके बाद चिकित्सक को दिखाकर वापस नि:शुल्क दवा योजना की कतार में लगना पड़ रहा है।

read more: VHP की भगवा रैली पर पथराव के बाद बेकाबू हुई स्थिति, कई वाहन क्षतिग्रस्त

पहले की अपेक्षा स्वास्थ्य केन्द्र में बढ़ी अव्यवस्थाओं के चलते कस्बा सहित आस-पास के वृद्ध, असहाय एवं सास, दमा, टीबी सहित अन्य रोगों से ग्रसित मरीज तो घंटों कतार में लगने के बजाय निजी झोलाछाप चिकित्सक से उपचार करा लौट रहे है। मरीजों व उनके परिजनों की ओर से जब चिकित्साप्रभारी डॉ. सुनील शर्मा को व्याप्त अव्यवस्थाओं की जानकारी दी जाती है तो उनका एक ही जवाब होता है ऐसा ही चलेगा।

 

 

read more:उफ ! ये कैसी व्यवस्था, कंधे पर शव, घुटनों तक पानी

 

इधर, स्वास्थ्य केन्द्र में कार्यरत लैब टेक्निशियन सीताराम बैरवा ने पुत्र को ऑनलाइन पर्ची काउंटर पर ऑपरेटर पद पर लगा दिया। पुत्र को पर्ची काउंटर का अनुभव नहीं होने पर पिता सीताराम बैरवा लैब का कार्य छोड़ पुत्र का हाथ बटाने पर्ची काउंटर पर आ जाता है, इससे लैब का कार्य बाधित हो जाता है। चिकित्साप्रभारी से मिलीभगत व पुत्र मोह में लैब टेक्निशियन सीताराम बैरवा की ओर से की जा रही मनमानी से मरीजों व परिजनों को परेशानी हो रही है।

 

read more: राजस्थान: ढाणी से निकली निशा बनी 'सुपर' मॉडल, टैलेंट से इम्प्रेस हो स्मृति ईरानी ने किया वीडियो पोस्ट

चिकित्साप्रभारी की आ रही शिकायतें
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में व्याप्त अव्यवस्थाओं को लेकर आई शिकायतों के बाद चिकित्साप्रभारी को नोटिस दिया गया है। अगर चिकित्साप्रभारी ने रवैया नहीं बदला तो उच्चाधिकारियों को कार्रवाई के लिए लिखा जाएगा।
-कैलाश मित्तल ब्लॉक सीएमएचओ, देवली

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।