इस पंचायत में रुपए लेकर दिया जा रहा पीएम आवास का लाभ, पढ़े खबर

By: Anuj Hazari

Published On:
Sep, 12 2018 10:00 AM IST

  • ग्रामीणों का आरोप सरपंच का बेटा करता है रोजगार सहायक की आईडी से काम

बीना. देवल गांव के सरपंच, सहायक सचिव, सचिव व सरपंच के बेटे की शिकायत लेकर गांव के लोग मंगलवार को जनपद अध्यक्ष से शिकायत करने के लिए पहुंचे। गांव के लोगों ने जनपद अध्यक्ष सावित्री यादव के लिए ज्ञापन सौंपा। जिसमें उल्लेख किया गया है कि गांव की सरपंच के पुत्र, सहायक सचिव की आईडी से अवैधानिक रुप से काम कर रहे हैं। साथ ही लोगों के लिए मिलने वाले लाभ से उन्हें वंचित रखा जा रहा है। लोगों ने आरोप लगाया कि रोजगार सहायक स्वयं किसी काम को नहीं करता है वह सरकारी आईडी का दुरुपयोग करके सरपंच के बेटे को दिए हुए हैं जिन पर कार्रवाई की जाए। लोगों का आरोप है कि रोजगार सहायक से यदि किसी काम को करने के लिए कहते हैं तो वह बिना रुपए लिए किसी काम को करने के लिए हां नहीं बोलते हैं।
पीएम आवास का लाभ देने के लिए रुपए
ग्रामीणों का आरोप है कि पीएम आवास के लिए जियो टेङ्क्षगग नहीं की जा रही है। इसके लिए हर व्यक्ति से रुपए लेने के बाद ही काम किया जा रहा है। गांव के पप्पू पिता दुर्जन रैकवार का कहना है कि गांव के सचिव ने उनसे 15 हजार रुपए लिए थे उसके बाद ही पीएम आवास का लाभ दिया गया है। गांव के बाबूलाल पिता निर्पत रैकवार ने बताया कि सहायक सचिव ने उनसे पीएम आवास की टेगिंग के लिए 3 हजार रुपए लिए थे। वहीं सरपंच के परिवार में चार लोगों के लिए पीएम आवास का लाभ दे दिया गया है। लोगों का आरोप है कि सरपंच का भाई यूपी में भी अपना नाम जुड़वाए हुए है जो दोनों राज्यों से गलत तरीके से शासकीय योजनाओं का लाभ ले रहा है। इन पर जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए।
निराधार है शिकायत
जो भी शिकायत की गई है वह निराधार है। मेरी आईडी मेरे पास ही रहती है। किसी भी रुपयों की मांग नहीं की गई है।
रोहित ठाकुर, सहायक सचिव, देवल

Published On:
Sep, 12 2018 10:00 AM IST