chaturmas pravachan : युवा शक्ति वह ताकत है, जिसके कंधों पर एक साथ चलते हैं वर्तमान और भविष्य

By: Binod Pandey

Published On:
Jul, 16 2019 05:00 PM IST

  • -साध्वी आणिमा ने कहा - दायित्व का बोध उसको होता है, जो ग्रहणशील होता है। सजगता के साथ दायित्व को क्रियान्वयन का पथ देता है। यह तभी संभव है, जब व्यक्ति दिल-दिमाग को निर्मल बनाकर सहजता व आनंद के साथ अपने कर्तव्य-पथ पर आगे बढ़ता है।

ठाणे। साध्वी आणिमा व साध्वी मंगलप्रज्ञा के सानिध्य में अखिल भारतीय तेयुप के तत्वाधान में तेरापंथ युवक परिषद ठाणे शहर,ठाणे (सेंट्रल) कोपरी एवं वागले इस्टेट तेयुप द्वारा ठाणे तेरापंथ के विशाल हॉल में मुंबई स्तरीय शपथ ग्रहण एवं दायित्व बोध कार्यशाला विजयी भव का आयोजन किया गया।

अभातेयुप के अध्यक्ष विमल कटारिया ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। महामंत्री संदीप कोठारी प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित थे। एक साथ सैतालिश परिषदों का भव्य सपथ ग्रहण कार्यक्रम हुआ। जिसे देख सभी आनंदविभोर हो गए। इस गरिमामय उपस्थिति से खिला इंद्रधनुषी रंग इस कार्यक्रम में अध्यक्ष विमल कटारिया व महामंत्री संदीप कोठारी के अतिरिक्त 2023 आचार्य महाश्रमण चातुर्मास व्यवस्था समिति, मुंबई के अध्यक्ष मदनलाल तातेड़, मुंबई सभाध्यक्ष नरेंद्र तातेड, मंत्री विजय पटवारी, ठाणे जीतो चैप्टर के अध्यक्ष महेन्द्र वागरेचा, बी.सी.भालावत, ठाणा सभा के अध्यक्ष देवीलाल श्रीश्रीमाल, मंत्री जितेंद्र बरलोटा, ट्रस्ट के निर्मल श्रीश्रीमाल, नरेश चपलोत, गौतम डांगी, महेश बाफना, देवेंद्र डागलिया, दिनेश सिंघवी, अजय भंसाली, संजय बोघरा, भूपेश कोठारी, नरेश सोनी, जगदीश परमार, दीपक समदरीया की उपस्थिति रही। प्रेरणा पाथेय के साथ प्राप्त हुआ मार्मिक संबोध विशाल युवा परिषद को संबोधन प्रदान करते हुए साध्वी आणिमा ने कहा - दायित्व का बोध उसको होता है, जो ग्रहणशील होता है। सजगता के साथ दायित्व को क्रियान्वयन का पथ देता है। यह तभी संभव है, जब व्यक्ति दिल-दिमाग को निर्मल बनाकर सहजता व आनंद के साथ अपने कर्तव्य-पथ पर आगे बढ़ता है। युवा शक्ति दुनिया की वो अद्भुत ताकत है, जिसके कंधो पर आरूढ़ होकर वर्तमान और भविष्य एक साथ चलते है। वही युवक सफलता के शिखर पर पहुँचता है, जो प्लान के साथ समय पर उसे समग्रता के साथ पूर्णता का लिबास देता है।

मुंबई महानगर की यह युवाशक्ति सन 2023 के महासूर्य की अगवानी में पलक पावड़े बिछाकर इंतजार कर रही है। समाज के वरिष्ठ एवं वशिष्ठ क्रीम इस महाशक्ति को सृजन से जोड़े एवं सम्यक नियोजन के साथ आगे बढ़े। जिन युवा साथियो को अपने कर्तव्य को निखारने के यह अवसर मिला है, वह अपनी पूरी टीम की शक्ति का उपयोग सौहार्द एवं आपसी तालमेल के साथ आगे बढ़े, यह आज की अपेक्षा है। युवाशक्ति इसमे खरी उतरेगी इसका मुझे विश्वाश है।

Published On:
Jul, 16 2019 05:00 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।