पति का आरोप, कहा पत्नी के साथ जेलर करता है अश्लील हरकतें, नहीं हुई कार्रवाई तो कर लूंगा आत्महत्या

By: Abhishek Gupta

Updated On: Apr, 25 2019 07:27 PM IST

  • - जमानत पर जेल से छूटे व्यक्ति ने जेलर पर लगाए गंभीर आरोप
    - जेल में निरुद्ध पत्नी पर जेलर रखता है गंदी नजर
    - लगाए अवैध संबंध स्थापित करने के आरोप
    - जेल में जेलर मिलने नहीं देता अपनी पत्नी से
    - पुलिस अधीक्षक से लेकर गृह मंत्री मुख्यमंत्री तक दिए शिकायती पत्र नहीं हुई कोई कार्यवाही

ललितपुर. जेल से जमानत पर छूट कर बाहर आए सुमेर सिंह पुत्र श्रीपत निवासी सिरसी पुनियाखेरा थाना जखौरा ने जिला कारागार के जेलर मुकेश पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके संबंध में उसने पुलिस अधीक्षक, जिलाधिकारी, डीआईजी, आई जी, गृह मंत्री तथा मुख्यमंत्री तक को ज्ञापन भेजा है। मगर अब तक जेलर के खिलाफ कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई है, जिस कारण पीड़ित आत्महत्या करने का मन बना रहा है।

जेलर करता है पत्नी से अश्लील हरकतें-

दिए गए ज्ञापन में सुमेर सिंह ने बताया कि करीब 28 माह पहले धारा 304 के मामले में वह और उसकी पत्नी जेल में निरुद्ध किए गए थे। वह हाल ही में उक्त प्रकरण में जमानत पर जेल से बाहर आया है और अभी उसकी पत्नी की जमानत नहीं हुई है। जेल में काटे गये समय के दौरान उसने देखा कि जेलर मुकेश उसकी पत्नी पर गंदी नजर रखता है। उसने कई बार महिला पुलिस के सहयोग से उसकी पत्नी जयंती को जेलर के कमरे में ले जाते हुये भी देखा, जहां पर वह पत्नी के साथ अश्लील हरकतें करता है। हो सकता है कि जेलर मेरी पत्नी से अवैध संबंध बना रहा हो।

पत्नी से नहीं मिलने दिया पति को-

सुमेर सिंह ने बताया कि जेल के अंदर रहकर भी मैनें कई बार अपनी पत्नी से मिलने का प्रयास किया, लेकिन जेलर और पुलिस वालों ने ऐसा होने नहीं दिया। और जमानत पर छूटने के बाद भी मैं जब अपनी पत्नी से मिलने जेल में गया तब मुझसे कागजी कार्यवाही तो करवाई गई, लेकिन मुझे मेरी पत्नी से मिलने नहीं दिया गया। बल्कि उल्टा जेलर कोई ना कोई इल्जाम लगाकर मुझे पुलिस के हवाले कर देता है ।

जेलर करवाता है औरतों से बुरा काम-

उसने जेलर पर यह भी आरोप लगाया है कि जेल में निरुद्ध रसूखदार कैदी पृथ्वी मजबूत चंद्रभान आदि से पैसा लेकर औरतों के साथ बुरा काम भी करवाता है । ऐसी स्थिति में उसकी पत्नी की रक्षा किया जाना अति आवश्यक है। यदि उसकी पत्नी जयंती के साथ कोई भी घटना घटित होती है तो उसकी समस्त जिम्मेदारी जेलर और उनके सहयोगी मानी जाए ।

आत्महत्या की दी धमकी-

सुमेर सिंह ने यह भी बताया कि उसने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक से लेकर गृह मंत्री मुख्यमंत्री तक सभी को ज्ञापन दिया है । मगर इस मामले में शासन प्रशासन द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया, जिससे उसका मन हो रहा है कि वह अब आत्महत्या कर ले। उसने यह भी बताया कि घरेलू विवाद के चलते मेरी पत्नी अपने तीन बच्चों को लेकर कुएं में कूद गई थी। उक्त घटना में तीनों बच्चों की मौत हो गई थी । जिस कारण मुझे और मेरी पत्नी को जेल भेज दिया गया था। तब से लेकर अब तक मेरी पत्नी जेल में निरुद्ध है।

Published On:
Apr, 25 2019 07:27 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।