कश्मीर की खुशहाली में भागी बनेंगे बाहरी श्रमिक, मिलेंगी आवास जैसी सुविधाएं

Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर की खुशहाली में भागीदार रहे बाहरी राज्यों के श्रमिकों के लिए अच्छी खबर है। राज्य प्रशासन इनके लिए सुरक्षित माहौल और निर्माण स्थलों पर ही आवासीय सुविधा...

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर की खुशहाली में भागीदार रहे बाहरी राज्यों के श्रमिकों के लिए अच्छी खबर है। राज्य प्रशासन इनके लिए सुरक्षित माहौल और निर्माण स्थलों पर ही आवासीय सुविधा भी मुहैया करवाएगा, ताकि घाटी में लंबित सरकारी विकास योजनाओं को समय रहते पूरा किया जा सके। बता दें कि बाहरी राज्यों के श्रमिक इन दिनों आतंकियों का निशाना बन रहे हैं। ऐसे में प्रशासन इनकी सलामती के लिए खासा चिंतित है। इसका निर्देश मंडलायुक्त कश्मीर बसीर अहमद खान ने जिला श्रीनगर में जारी विकास योजनाओं की मौजूदा हालात पर बैठक में दिया। वादी में सुधरते हालात से हताश आतंकियों ने छह दिनों में राजस्थान के ट्रक चालक और सेब व्यापारी की हत्या करने के अलावा छत्तीसगढ़ के श्रमिक हत्या की है। इससे वादी में बाहरी श्रमिकों में भय का माहौल बन गया है। कई घाटी भी छोडऩे लगे हैं। इससे कश्मीर में जारी विभिन्न विकास योजनाएं भी प्रभावित हो रही हैं। खान ने कहा कि श्रमिकों को इन कार्यों को पूरा करने के लिए लाया जाए। उन्हें निर्माण स्थल पर ही रहने व खाने की उचित सुविधा और सुरक्षा दी जाए, ताकि वह बिना किसी डर काम कर सकें। पिछले पांच दिनों में कश्मीर में हुई पांच आतंकवादी घटनाओं ने एक बार फिर कश्मीर में दहशत का माहौल व्याप्त कर दिया है। तीन बाहरी लोगों की हत्या और गत रात सेब की पेटियों को आग के हवाले करने की घटना के बाद घाटी में मौजूद बाहरी लोगों व ट्रक चालकों में असुरक्षा की भावना पैदा हो गई है। हालांकि राज्य सरकार ने अन्य राज्यों के ट्रक चालकों, श्रमिकों और सेब व्यापारियों की सुरक्षा को यकीनी बनाने के लिए उन्हें सुरक्षित स्थानों पर भेजना शुरू कर दिया है। ट्रक चालकों को सुरक्षाबलों के शिविर में जाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा फ्रूट मंडी परिसर में भी ठहरने की हिदायत दी गई है। हाइवे पर भी उन्हें निर्धारित स्थानों पर ही रुकने के लिए कहा गया है।

Nitin Bhal
और पढ़े
Web Title: Government will provide shelter to labor in Kashmir
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।