ऑनलाइन काउंसलिंग में शामिल निजी कॉलेजों में भी बढ़ी है 26 फीसदी सीट

By: Reena Sharma

Updated On:
24 Aug 2019, 01:14:44 PM IST

  • उच्च शिक्षा : सवर्णों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण, अल्पसंख्यक कॉलेजों ने भी की ईडब्ल्यूएस सीटों की मांग

     

इंदौर. ताजा सत्र के लिए ऑनलाइन काउंसलिंग खत्म होने के बाद भी ईडब्ल्यूएस सीटों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है। उच्च शिक्षा विभाग ने सरकारी और निजी कॉलेजों में 26-26 फीसदी सीटें बढ़ा दी मगर अल्पसंख्यक कॉलेजों के संबंध में कोई आदेश जारी नहीं हुए। अब इन कॉलेजों ने भी इसी सत्र में सीट बढ़ोतरी की मांग उठाई है।

must read : इंजीनियर बेटे ने किया मां को फोन और कुछ देर बाद ही खा लिया जहर, शादी की तैयारी कर रहा था परिवार

आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों के लिए केंद्र सरकार ने 10 फीसदी आरक्षण मंजूर किया है। इससे बाकी वर्ग का आरक्षण प्रभावित न हो, इसलिए उच्च शिक्षा विभाग ने स्वीकृत सीट संख्या में 26 फीसदी सीटों की बढ़ोतरी कर दी। शहर के होलकर साइंस कॉलेज, जीएसीसी, न्यू जीडीसी, ओल्ड जीडीसी, न्यू साइंस कॉलेज सहित निजी कॉलेजों को इसी सत्र में इस बढ़ोतरी का लाभ मिला। विभाग ने ऑनलाइन काउंसलिंग के पोर्टल पर ही सीट संख्या में बदलाव कर दिया था।

must read : ये तीन दिन इंदौर में रहेंगे सिंधिया, इनसे होगी खास मुलाकात

अलॉटमेंट के आधार पर इन सीटों पर एडमिशन भी हुए। 26 फीसदी की बढ़ोतरी निजी कॉलेजों के लिए भी होने की जानकारी मिलने पर अल्पसंख्यक कॉलेजों ने भी सीट बढ़ोतरी की मांग उठाई है। कॉलेज संचालकों ने उच्च शिक्षा विभाग से इसी सत्र में ईडब्ल्यूएस सीट शामिल करने के लिए पत्र लिखा। कॉलेजों का कहना है कि ईडब्ल्यूएस आरक्षण समान रूप से सभी शैक्षणिक संस्थानों में लागू किया जाना है, ऐसे में अल्पसंख्यक कॉलेजों को यह लाभ नहीं देना कई सवाल खड़े कर रहा है।

must read : इंजीनियर बेटे ने किया मां को फोन और कुछ देर बाद ही खा लिया जहर, शादी की तैयारी कर रहा था परिवार

100% तक सीट फुल

शहर में करीब तीन दर्जन अल्पसंख्यक कॉलेज है। ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू करने के लिए विभाग को ऑनलाइन काउंसलिंग एक सप्ताह से ज्यादा समय पर स्थगित करना पड़ी थी। इस दौरान बड़ी संख्या में छात्रों ने अल्पसंख्यक कॉलेजों में एडमिशन ले लिए। इससे ज्यादातर कोर्स की 100 फीसदी तक सीटें फुल हो गई। खाली सीटों के लिए अब भी अल्पसंख्यक कॉलेजों में एडमिशन की प्रक्रिया चल रही है।

Updated On:
24 Aug 2019, 01:14:44 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।