कोहराम में बदल गई शादी की पहली सालगिरह की खुशियां! पिता बोला- दामाद ने मारने के बाद छत से लटका दिया बेटी को

By: Dinesh Saini

Updated On:
11 Jul 2019, 12:29:43 PM IST

  • Murder For Dowry : संगरिया के गांव रतनपुरा (राजस्थान) निवासी नत्थूराम की बेटी सुमन (22) की शादी 7 जुलाई 2018 को गांववासी चिनाई मिस्त्री प्रभुराम के पेंटर बेटे इंद्र से हुई थी...

हनुमानगढ़/संगरिया। शादी की पहली सालगिरह थी। पति-पत्नी साल भर में साथ बिताए खूबसूरत पलों को यादों की लड़ी में संजोने की तैयारी कर रहे थे। गर्म हवा का ऐसा झोंका आया कि खुशियां जलकर राख हो गई। एक साल पहले जिस घर में फूलों से सजी डोली में बैठकर आई थी, वहीं से उसकी अर्थी ( Married Woman Hanging ) उठी। मामला हरियाणा के गांव रामपुरा बिश्नोइयां का है। संगरिया के गांव रतनपुरा (राजस्थान) निवासी नत्थूराम की बेटी सुमन (22) की शादी 7 जुलाई 2018 को गांववासी चिनाई मिस्त्री प्रभुराम के पेंटर बेटे इंद्र से हुई थी।

 

शादी के बाद इंद्र पत्नी को लेकर नाना के घर सिरसा रहने लगा। शादी की पहली सालगिरह पर दंपती में अनबन हो गई। रिश्तों में खटास इतनी बढ़ गई कि ससुर अपनी बहू को वापस गांव ले आया। उम्मीद थी कि सब ठीक हो जाएगा, पर ऐसा न हुआ।

 

9 जुलाई को सुमन का ससुर सिरसा, सास सरेश मिड-डे मील बनाने सरकारी स्कूल, छोटा भाई गांव की वर्कशॉप पर गए हुए थे। करीब 11 बजे सास घर लौटी तो मुख्य दरवाजा भीतर से बंद था। काफी देर दरवाजा खटखटाने पर आवाज नहीं आई तो वह दीवार कूदकर भीतर गई। कमरे में छत से लटक रहे बहू के शव को देख उसके पैरों तले से जमीन खिसक गई। शोर मचाने पर ग्रामीण व थाना पुलिस आ गई। शव को डबवाली के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया। बुधवार को पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया। जिसका उसके पीहर गांव रतनपुरा (संगरिया) में देर शाम गमगीन माहौल में दाह संस्कार हुआ।

 

पति पर दहेज हत्या का केस दर्ज ( dowry case e in Rajasthan )
सदर थाना पुलिस प्रभारी राजेंद्र सिंह व पुलिस चौकी प्रभारी भगतराम के अनुसार इंद्र को उसके नाना ने गोद ले रखा था। बचपन से ही वह सिरसा उनके पास रहता है। शादी के बाद वह पत्नी को नाना के घर सिरसा ले गया। मृतका के पिता रतनपुरा निवासी नत्थू राम ने आरोप लगाया है कि उसकी बेटी सुमन को दहेज के लिए मारा है। बातचीत में बेटी ने बताया था कि दहेज के लिए उसका पति उसे पीटता था। गांव रतनपुरा सरपंच सत्यपाल राहड़ ने बताया कि सुमन की ससुराल में हत्या हो गई, कल देर शाम संस्कार हुआ। उधर, मृतका के मामा हरि राम निवासी गांव भाव वाला (अबोहर) का कहना है कि दोपहर बाद करीब 2 बजे सुमन के चाचा हीरालाल ने बताया कि भतीजी ने फांसी खा ली है।

शाम करीब पांच बजे वे लोग मौके पर पहुंचे। वहां उसकी भानजी का शव छत से लटक रहा था। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसका गला घोंटकर फंदे पर लटकाया हो। चुनरी तथा रस्से को बांधने के बाद छत में लगे सरिया में डाल रखा था। सुमन के पांव जमीन पर लगे थे। ये पता चला कि उसकी भांजी तथा इंद्र के बीच शादी की सालगिरह के दिन विवाद हुआ जिसने सुमन की जिंदगी छीन ली।

 

फोटो - प्रतिकात्मक

Updated On:
11 Jul 2019, 12:29:43 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।