ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने फूट-फूट कर रोईं महिलाएं, बाहर मंत्री देते रहे पहरा!

By: Pawan Tiwari

Updated On: 10 Jun 2019, 06:56:56 PM IST

  • क्यों ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने रोने लगीं महिलाएं

गुना। हार के बाद पहली बार कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना-शिवपुर पहुंचे थे। रविवार को जिला कांग्रेस कमिटी के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान सिंधिया ने कार्यकर्ताओं को हार की वजह बताई। तभी अगली पंक्ति में ही बैठीं महिला कार्यकर्ताएं फूट-फूट कर रोने लगीं।

 

सिंधिया ने हार के पीछे की वजह में कहा कि उनकी खुद की मेहनत में कमी थी इसलिए चुनाव हार गए। हालांकि सिंधिया को देखने से लग रहा था कि वह काफी थके हुए हैं। सिंधिया कमरे में पहुंचने के बाद ही खुद ही तकिया उठाया और मंच पर बैठ गए। सिंधिया के समाने ही कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताएं बैठी थीं।

इसे भी पढ़ें: 1957 के बाद पहली बार गुना को महा'राज' परिवार अस्वीकार, मोदी की आंधी के आगे नहीं टिकी ज्योतिरादित्य की जोत!

congress

 

संगठन को दुरुस्त करेंगे
सिंधिया ने कहा कि वे हार की समीक्षा करने के लिए पहुंचे हैं और इसके बाद जल्द ही संगठन को दुरुस्त करेंगे। सिंधिया ने खुद को पार्टी का सिपाही बताया और कहा कि अंतिम सांस तक वह सच्चे सिपाही की तरह लड़ेंगे। सिंधिया ने इसके बाद बंद कमरे में पार्टी पदाधिकारियों के साथ भी बैठक की।

 

सिंधिया जब कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे तो कमलनाथ सरकार के तीन मंत्री बाहर बैठ पहरा देेते रहे। इसमें कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट, महिला बाल विकास मंत्री इमरती और श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया बाहर थे। इन तीनों को सिंधिया का करीबी बताया जाता है।

इसे भी पढ़ें: चुनाव परिणाम के 16 दिन बाद शिवपुरी पहुंचे सिंधिया, उमड़ी कार्यकर्ताओं की भीड़

jyotiraditya scindia

 

प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग
लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस को मध्यप्रदेश में मिली करारी हार के बाद सिंधिया के करीबी मंत्रियों ने ही उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग की थी। हालांकि पार्टी के अंदर से ही इसका कई लोगों ने विरोध भी किया था। ऐसे में अभी ये तय नहीं हो पाया है कि एमपी कांग्रेस का नया अध्यक्ष कौन बनेगा।

Updated On:
10 Jun 2019, 06:38:31 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।