दंतेवाड़ा में नक्सली हमले में गोरखपुर के दंतेश्वर हुए शहीद, बीजेपी विधायक की सुरक्षा में थे तैनात

By: Dheerendra Vikramadittya

Published On:
Apr, 10 2019 04:27 PM IST

  • Naxal attack

दंतेवाड़ा में हुए नक्सली हमले में गोरखपुर ने भी अपना एक लाल खोया है। बीजेपी विधायक भीमा मांडवी के साथ तैनात उनके तीन अंगरक्षकों में एक गोरखपुर के दंतेश्वर मौर्य भी थे। हमले के वक्त ड्राइविंग सीट पर दंतेश्वर ही सवार थे।
कौडीराम के माहोपार गांव के रामानुज मौर्य के दो बेटे हैं। दोनों बेटे छत्तीसगढ़ पुलिस में हैं। बड़े पुत्र योगेंद्र मौर्य सुकोमा में तैनात हैं तो छोटे दंतेश्वर मौर्य दंतेवाड़ा में तैनात थे। वह इन दिनों बीजेपी विधायक भीमा मांडवी की सुरक्षा में लगाए गए थे। दंतेवाड़ा में एक चुनावी सभा के बाद विधायक व उनके चार अंगरक्षक एक बुलेट प्रुफ एसयूवी में लौट रहे थे। लौटते वक्त नक्सलियों ने इन पर हमला किया। खतरनाक आईईडी से हुए हमले में विधायक समेत उनके चार अंगरक्षक मारे गए थे।
इन अंगरक्षकों में गोरखपुर के दंतेश्वर मौर्य भी शामिल थे जो नक्सलियों के शिकार हो गए। 35 वर्षीय दंतेश्वर की शहादत की सूचना जैसे ही गोरखपुर पहुंची घर में कोहराम मच गया। दंतेश्वर की पत्नी मीनाक्षी कुशवाहा बड़हलगंज क्षेत्र में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका हैं। दंतेश्वर के एक पुत्र आग्रह मौर्य हैं।

Published On:
Apr, 10 2019 04:27 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।