भूल गई थी घर का पता, 4 दिन से स्टेशन में रोते हुए बैठी थी बच्ची, फरिश्ता बन डायल 112 के आरक्षकों ने पहुंचाया घर

Dakshi Sahu

Publish: Sep, 12 2018 11:12:41 AM (IST)

बच्ची नेवई थाना क्षेत्र की रहने वाली है। उसकी मानसिक स्थिति थोड़ी कमजोर है। इसलिए वह घर से बिना सूचना दिए मार्केट निकल गई थी।

भिलाई. पॉवर हाउस स्टेशन में 13 साल की बच्ची घर का रास्ता भूलकर चार दिनों तक वहीं घूमती और सोती रही। मगर स्टेशन पर गश्त करने वाली जीआरपी की नजर नहीं पड़ी। गनीमत है कि डायल 112 का एक आरक्षक बच्ची को रोते हुए देख लिया। उसने बच्ची को उसके पिता तक पहुंचाया।

तैनात थे ड्यूटी में
बच्ची नेवई थाना क्षेत्र की रहने वाली है। उसकी मानसिक स्थिति थोड़ी कमजोर है। इसलिए वह घर से बिना सूचना दिए मार्केट निकल गई थी। इसके बाद वह घर का रास्ता भटक गई। घटना सोमवार की पावर हाउस चौक की है। डायल ११२ छावनी चीता २ के आरक्षक रोशन देवांगन और विजय जायसवाल पावर हाउस चौक पर ड्यूटी में तैनात थे।

रोती हुई बैठी थी बच्ची
प्वाइंट से १० मीटर की दूरी पर १३ साल की बच्ची रोती हुई बैठी थी। दोनों आरक्षकों ने पूछताछ की। बताया कि करीब ४ दिन से घर का रास्ता भूल गई है। सही पता नहीं बता पा रही थी। बस इतना बताया कि उसके पिता सुपेला की एक कपड़ा दुकान में काम करते हैं। फिर दोनों आरक्षक उसे घर तक सही सलामत पहुंचाने में जुट गए।

सी ४ रायपुर में दी सूचना फिर इवेंट जनरेट हुआ
आरक्षकों ने संयुक्त रूप से बताया कि प्वाइंट ने नहीं हटने का सख्त निर्देश दिया गया। घटना की सूचना तत्काल सी ४ रायपुर में दी। तीन मिनट के बाद गाड़ी में लगे टैव लिखा आया तत्काल बच्ची को उसके पैरेंट्स मिलाओ। फिर उसे लेकर सुपेला में सभी कपड़े की दुकान में खोजबीन की तब पता चला।

अपनी बेटी को सकुशल पाकर फफक पड़े पिता
पुलिस ने बताया कि जब पिता के सामने बेटी आई तो वह उसे देख अपने सीने से लगा लिया। बच्ची भी अपने पापा से लिपटकर सिसकियां भरने लगी। उन्होंने पुलिस को बताया कि बच्ची की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। कभी-कभार वह घर से निकल जाती थी।

एसएसपी डॉ. संजीव शुक्ला ने बताया कि डायल ११२ का अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। घर से बच्ची गायब हो गई थी। आरक्षकों ने उसके पिता से मिलवाया। यह सराहनीय कार्य किया है। उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा।

More Videos

Web Title "Dial 112 service in Durg, Durg police"