अतिथि शिक्षक ने स्कूल से भगाए जाने पर दुखी होकर खाया जहर

By: Samved Jain

Updated On:
24 Aug 2019, 03:39:18 PM IST

  • एक अन्य मामले में युवक ने खाया जहर, पिता ने लगाया युवक के सास ससुर पर प्रताडि़त करने का आरोप

दमोह. अतिथि शिक्षक ने स्कूल से भगाए जाने से दुखी होकर जहर खा लिया तो वहीं एक युवक ने अपने ही ससुराल वालों से परेशान होकर जहर खा लिया। दोनों युवाओं को गंभीर हाल में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

 

एक अतिथि शिक्षक ने स्कूल से निकाले जाने पर जहर खा लिया। शिक्षक को गंभीर हालत में गुरुवार की रात जिला अस्पताल लाया गया और स्थिति में सुधार नहीं आने पर बेहतर उपचार के लिए शुक्रवार की सुबह जबलपुर रेफर कर दिया गया है। घटना के संबंध में अतिथि शिक्षक कमल प्रजापित उम्र २७ साल निवासी चंद्रावन थाना सिमरिया जिला पन्ना के पिता मिलन प्रजापति ने बताया कि उसका बेटा रैयासाके गांव के सरकारी स्कूल में अतिथि शिक्षक था। लेकिन रिक्त पद पर सीनियर शिक्षक आ जाने की वजह से कमल को स्कूल से हटा दिया गया और इस बात से दुखी होकर बेटे ने जहर खा लिया। जिला अस्पताल में भर्ती कमल की स्थिति गंभीर होने की वजह से अस्पताल चौकी पुलिस घटना की पूछताछ युवक से नहीं कर सकी।

 



जिले के तेजगढ़ थाना अंतर्गत पुतरीघाट निवासी मूरत सिंह पिता महाराज सिंह ने शुक्रवार की सुबह किन्हीं कारणों के चलते जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया जिससे युवक की हालत गंभीर हो गई और जिला अस्पताल लाया गया है। उपचाररत युवक के पिता महाराज सिंह का आरोप है कि उसके बेटे ने ससुराल के लोगों से परेशान होकर जहर खाया है। बेटे ने बताया था कि उसके सास ससुर परेशान कर रहे हैं। बेटे की पत्नी जो काफी दिनों से मायके में थी वह चार दिन पहले ही घर आई है। बेटा और बहू अलग रहते थे। सुबह वह तेजगढ़ जाने की कहकर निकला था। इसके बाद पुलिस द्वारा सूचना मिली की मूरत ने जहर खा लिया जिसे जिला अस्पताल ले जाया गया है। फिलहाल पुलिस ने घटना की पतासाजी शुरु कर दी है।

Updated On:
24 Aug 2019, 03:39:18 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।