गोगा नवमी पर्व मनाया, बांदरवाल बांधी

By: Durgeshwari Sharma

Updated On: 25 Aug 2019, 02:16:11 PM IST

  • भीलवाड़ा। भीलवाड़ा जिले में रविवार को लोक देवता गोगाजी महाराज की जयन्ती गोगा नवमी पर्व परम्परागत ढंग से मनाया गया। लोगों ने वीर गोगाजी को श्रदृधा व आस्था से स्मरण करते हुए पूजा— पाठ किया। घरों में वीर गोगाजी महाराज की मूर्ति का पूजन किया। धूप —अगरबत्ती कर खीर— मालपुए—गुलगुलों का भोग लगाया गया। राखियां, नारियल आदि अर्पित किए। Goga Navami festival celebrated Banderwal tied in Bhilwara

 

भीलवाड़ा। भीलवाड़ा जिले में रविवार को लोक देवता गोगाजी महाराज की जयन्ती गोगा नवमी पर्व परम्परागत ढंग से मनाया गया। लोगों ने वीर गोगाजी को श्रदृधा व आस्था से स्मरण करते हुए पूजा— पाठ किया। घरों में वीर गोगाजी महाराज की मूर्ति का पूजन किया। धूप —अगरबत्ती कर खीर— मालपुए—गुलगुलों का भोग लगाया गया। राखियां, नारियल आदि अर्पित किए। Goga Navami festival celebrated Banderwal tied in Bhilwara

सवाईपुर। कस्बे में गोगा नवमी पर्व पर गोगाजी महाराज की मूर्ति घर-घर पहुंचीं। महिलाओं ने लोक देवता गोगाजी महाराज के घर पहुंचने पर पूजा — अर्चना की। सर्प सहित जहरीले जन्तुओं से प्राण रक्षा की कामना की। परिवार की सुख—समदिृध की कामना की।
महिलाओं ने वीर गोगाजी को तिलक लगाकर आगवानी की। गोगाजी महाराज को गुग्गा, जाहिर वीर व जाहर पीर नाम से जाना जाता है। कृष्ण जन्म पर सुबह घर के द्वार पर आम के पत्तों से बनी बांदरवाल बांधी। मन्दिर के पुजारियों ने घर -घर पंजीरी बांटी। घर पर अतिथियों का आदर — सत्कार किया गया। Goga Navami festival celebrated Banderwal tied in Bhilwara

Updated On:
25 Aug 2019, 02:16:10 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।