gram panchayat : 32 नई पंचायतें बनी और 9 पंचायतें हटीं, तो 334 से बढ़कर हो गईं जिले में 357 ग्राम पंचायतें

By: Arvind jain

Updated On:
24 Aug 2019, 01:09:25 PM IST

  • पंचायत परिसीमन: रात साढ़े 11 बजे जारी हो सकी ग्राम पंचायतों के परिसीमन की अंतिम सूची।

    - पंचायतों की सीमाएं तय होने का आधी रात तक इंतजार करते रहे जनप्रतिनिधि और ग्रामीण।

अशोकनगर। जिले district में 32 नई ग्राम पंचायतों gram panchayat का गठन किया गया है, तो वहीं पुरानी 9 ग्राम पंचायतें खत्म हो गई हैं। इससे जिले में ग्राम पंचायतों की संख्या 334 से बढ़कर अब 357 हो चुकी है। इससे अब जिले में 357 सरपंच sarpanch पदों पर चुनाव होगा, इसके लिए जनप्रतिनिधि और ग्रामीण काफी उत्साहित रहे जो दिनभर तो अपने हिसाब से पंचायतों की सीमाएं निर्धारित कराने का प्रयास करते रहे और आधी रात तक परिसीमन की अंतिम सूची जारी होने का इंतजार करते रहे।

 

तीन ग्राम पंचायतें खत्म हो गई

 

गुरुवार-शुक्रवार की रात साढ़े 11 बजे ग्राम पंचायतों के परिसीमन की अंतिम सूची जारी हुई। अंतिम सूची अनुसार मुंगावली की छह और चंदेरी की तीन ग्राम पंचायतें खत्म हो गई हैं। साथ ही अशोकनगर व चंदेरी में 10-10 नवीन ग्राम पंचायतें, मुंगावली में सात और ईसागढ़ जनपद क्षेत्र में पांच नवीन ग्राम पंचायतें गठित हुई हैं।

 

दूसरी पंचायतों में जुड़ गए
इस परिसीमन की प्रक्रिया से करीब पांच दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों के क्षेत्र बदल गए हैं और कई गांव एक पंचायत से अलग होकर दूसरी पंचायतों में जुड़ गए हैं। हालांकि अंतिम सूची जारी होने के बाद ग्रामीणों ने दावे-आपत्तियों का सही निराकरण न होने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है कि पास की ग्राम पंचायत से हटाकर उनके गांव को दूर की ग्राम पंचायतों में जोड़ दिया गया है।



खत्म हो गईं यह ग्राम पंचायतें-
मुंगावली जनपद पंचायत क्षेत्र की पिपरई, केशोपुर, बरखेड़ा पिपरई, खोरीबरी, कस्बारेंज और मीरकाबाद ग्राम पंचायत को खत्म कर दिया गया है। जिनमें से चार तो पिपरई नगर परिषद में और कस्बारेंज व मीरकाबाद को मुंगावली नगर परिषद क्षेत्र में शामिल हो जाने से खत्म किया गया है। चंदेरी जनपद पंचायत क्षेत्र की बारी, लिधौरा और सीगोन ग्राम पंचायत को खत्म कर दिया गया है।


अब जनपद व जिपं वार्डों की भी बदलेंगी सीमाएं-
पंचायतों का परिसीमन होने के बाद अब जनपद पंचायत और जिला पंचायत के वार्डों का भी परिसीमन होगा। प्रशासन ने वार्डों का प्रारंभिक प्रकाशन कर दिया है। जनपद ईसागढ़ व चंदेरी ब्लॉक के वार्डों में तो कोई बदलाव नहीं हुआ, पिपरई नगर परिषद बनने से मुंगावली जनपद के दो वार्ड घट गए, इससे 23 वार्डों का प्रकाशन हुआ।

 

पंचायत के वार्डों का निर्धारिण होगा
शाढ़ौरा नगर परिषद बनने से अशोकनगर जनपद में 24 वार्ड रह गए थे, जहां एक वार्ड बढ़ाकर 25 वार्ड किए गए हैं। वहीं जिला पंचायत के भी 11 वार्डों का भी प्रारंभिक प्रकाशन हुआ है। 31 अगस्त तक कलेक्टर कार्यालय में दावे-आपत्ति लिए जाएंगे और इसके बाद जनपद व जिला पंचायत के वार्डों का निर्धारिण होगा।


जिले में नवीन गठित हुईं यह ग्राम पंचायतें-
- अशोकनगर जनपद क्षेत्र: ग्राम पंचायत पौरूखेड़ी, पलकटोरी, अमाही कचनार, विजयपुरा, फतेहपुर, गौरा, डोंगरा, जुग्या, शंकरपुर, जलालपुर तूमैन।

- मुंगावली जनपद क्षेत्र: ग्राम पंचायत बरखाना, भैसोनकला, जतौली, जसनखेड़ी, जमुनिया, गढ़ला, पचमहुआ।

- चंदेरी जनपद क्षेत्र: ग्राम पंचायत पाडरी, कैथन, निदानपुर, धमरासा, बक्सनपुर, नारोन, गोरासेहराई, सतपैया, छपरा, कुंवरपुर।

- ईसागढ़ जनपद क्षेत्र: ग्राम पंचायत भौंरा, कालीटोर, छिकरी, इमझरा, बहेरिया(रूपनगर)।

परिसीमन से जिले में यह भी खास-
- जिले की 357 ग्राम पंचायतों में से 243 ग्राम पंचायतों की जनसंख्या दो हजार से कम है और 19 ग्राम पंचायतों की संख्या तीन हजार से अधिक है।

- 95 ग्राम पंचायतों में जनसंख्या दो से तीन हजार के बीच है, जिसमें मुंगावली की 28, ईसागढ़ 21, चंदेरी 20 और अशोकनगर की 26 पंचायतें शमिल।

- जिले की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत कदवाया है, चार गांव के साथ इसकी जनसंख्या
5343 है और चंदेरी की सिरसोद 939 जनसंख्या के साथ सबसे छोटी पंचायत है।

- मुंगावली ब्लॉक में जिले की दूसरी सबसे बड़ी ग्राम पंचायत अचलगढ़ है, तीन गांव के साथ इस ग्राम पंचायत की जनसंख्या 4069 है।


परिसीमन के बाद जिले में पंचायतों की स्थिति-

जनपद पंचायत पहले नवीन हटाईं अब पंचायतें
अशोकनगर 104 10 0 114
मुंगावली 91 7 6 92
ईसागढ़ 83 5 0 88
चंदेरी 56 10 3 63
कुल 334 32 9 357
(जानकारी जिला पंचायत से अनुसार।)


अंतिम प्रकाशन के साथ ही ग्राम पंचायतों की सीमाएं निर्धारित हो गईं, जिनमें कोई बदलाव अब नहीं होगा। जनपद व जिला पंचायतों के वार्डों का परिसीमन होगा, जिसके लिए प्रारंभिक प्रकाशन हो गया है और दावे-आपत्तियों के निराकरण के बाद वार्डों का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा।
अजय कटेसरिया, सीईओ जिला पंचायत अशोकनगर

Updated On:
24 Aug 2019, 01:09:25 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।