मरे हुए लोगों को जिंदा करने के लिए अस्पताल में किया गया ये काम!

By: Prakash Chand Joshi

Updated On:
19 Aug 2019, 12:21:05 PM IST

    • मामला जान हर कोई हैरान

नई दिल्ली: कहते हैं धरती पर भगवान की मर्जी के बगैर पत्ता भी अपनी जगह से नहीं हिलता। मरना-जीना भगवान के हाथ में ही होता है। हालांकि, डॉक्टर इंसान को बचाने में एक अहम भूमिका जरूर निभाते हैं, लेकिन जब कोई मर जाए तो उसका फिर से जिंदा होना असंभव होता है। वहीं महाराष्ट्र से एक ऐसा मामला सामने आया जिसने हर किसी को हैरान कर दिया।

ये है मामला

पुलिस एक कथित घटना की पुष्टि कर रही है जिसमें महाराष्ट्र के जलगांव के एक राजकीय अस्पताल के मुर्दाघर में दो किशोरों के शवों को सेंधा नमक में रखा गया था। इन्हें वापस जिंदा करने के लिए ऐसा किया गया था। वहीं एक अधिकारी ने घटना की पुष्टि करने के लिए संबंधित अस्पताल के डीन को एक पत्र लिखा है। एमआईडीसी के पुलिस स्टेशन इंस्पेक्टर रंजीत शिरसाथ ने कहा कि 'शव अस्पताल के कब्जे में थे, इसलिए हम घटना की पुष्टि नहीं कर सकते। हालांकि, उन्होंने इस घटना के सत्यापन के लिए एक पत्र लिखे जाने की पुष्टि की।

फेक अलर्ट: मुस्लिम महिलाओं के साथ नहीं हो रहा दुर्व्यहार, श्रीलंका के वीडियो को कश्मीर का बताकर किया जा रहा है वायरल

फोटो सोशल मीडिया पर किया गया शेयर

वहीं इस घटना से जुड़ा एक फोटो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। इसमें दो किशोरों के शवों को सेंधा नमक में डूबे हुए दिखाया गया है। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि हो सकता है कि ये उन्हें जिंदा करने की उम्मीद में किया गया हो। उन्होंने कहा कि जलगांव में मास्टर कॉलोनी के दोनों निवासी शुक्रवार शाम एक तालाब में डूब गए थे। जिसके बाद उनके शवों को उसी रात पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया था, लेकिन अस्पताल की मोर्चरी में क्या हुआ, यह पता नहीं चल पाया है।

Updated On:
19 Aug 2019, 12:21:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।