संजय सागर व बघर्रू डैम के गेट खुले, दो फीट पानी और भरा तो हलाली होगा लबालब

By: Krishna singh

Updated On:
25 Aug 2019, 07:01:03 AM IST

  • विदिशा में दूसरे दिन भी जोरदार बारिश

विदिशा. विदिशा-रायसेन की सिंचाई और पेयजल की दृष्टि से लाइफ लाइन माने जाने वाला हलाली डैम दो साल बाद अपने उच्चतम स्तर पर आ गया है। मात्र दो फीट पानी की और जरूरत है, इसके बाद यह डैम वेस्ट वीयर के माध्यम से नयनाभिराम छरछरे के रूप में बहने लगेगा। अभी जलस्तर 459.9 मीटर के मुकाबले 459 मीटर तक पहुंच चुका है। फीट में मानें तो हलाली डैम की कुल जलभराव क्षमता 1508 फीट है, जिसमें से शनिवार की सुबह 11 बजे तक 1506 फीट पानी इसमें भर चुका है।

 

ये बांध और जलाशय हो गए लबालब
अभी की स्थिति में देखा जाए तो सगड़ बांध, रेहटी बांध, संजय सागर, केथन बांध, और बघर्रू बांध 100 प्रतिशत भरा चुके हैं वहीं फूफेर जलाशय, जंबार जलाशय, वर्धा जलाशय और पुराघटेरा जलाशय भी 100 प्रतिशत भरा चुके हैं।

बारिश से ऐसी रही शहर की स्थिति...
शुक्रवार को दोपहर करीब 12 बजे से शुरू हुई तेज बारिश करीब दो घंटे चली थी, इसके बाद शाम और रात को भी कभी कम और कभी तेज बारिश होती रही। शनिवार को भी यही क्रम जारी रहा और सुबह से ही तेज बारिश शहर में हुई। नतीजा, टीलाखेड़ी रोड पर द्वारिकापुरी और रॉयलसिटी के बीच से निकलने वाला नाला सड़क के बराबरी से बहने लगा। इस बारिश से बांसकुली, कागदीपुरा, रामलीला रोड सहित कई जगह पानी भर गया। चरणतीर्थ को जाने वाले दोनों मार्ग भी पूरी तरह बंद रहे।

 

कई सड़कों की दुर्दशा सामने आई
बारिश का जोर पड़ते ही शहर की सड़कों की दुर्दशा सामने आने लगी है। क्रांति चौक पर सड़क के बीच का बड़ा हिस्सा धंसक जाने से काफी बड़ा गड्ढा हो गया है, इसी तरह द्वारकापुरी गेट से कॉलोनी में जाना मुश्किल हो रहा है। पूरी टीलाखेड़ी रोड पर डामर के बावजूद बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। नाले के उफान से आरएमपी नगर की कई सड़कें जलमग्न हैं। हरिपुरा में भी कई जगह बुरे हालात हैं।

मंडीबामोरा : नाले में बहे युवक की मौत
मंडीबामोरा. शनिवार की दोपहर 2 बजे करीब ग्राम विसनपुर से वापस ग्राम कुल्हन जा रहे तीन युवक उफनते नाले को पार करते समय बह गए थे। इनमें से दो युवकों को बचा लिया गया, जबकि एक युवक की मौत हो गई। कुरवाई पुलिस ने बताया कि 37 वर्षीय भारत पिता गुबरा अहिरवार की पानी में डूबने से मौत हो गई। उसके दो अन्य साथी प्राणसिंह और कल्लू खंगार बच गए थे।

 

मकान का आधा हिस्सा गिरा, कोई हताहत नहीं
शहर में लगातार हो रही बारिश से शनिवार को बांसकुली टीला में एक मकान गिर गया। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। पार्षद पंकज पांडेय ने बताया, सुबह 10 बजे मुकेश सोनी के घर का एक हिस्सा गिर गया। परिजन घर के दूसरे हिस्से में थे। इससे कोई हताहत नहीं हुआ। वहीं उनके वार्ड में दो दिन पूर्व कागदीपुरा में शकुनबाई का मकान का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था।

 

Updated On:
25 Aug 2019, 07:01:03 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।