PM मोदी के खिलाफ प्रत्याशी घोषित न होने से कांग्रेसजनो में बढी बेचैनी

By: Ajay Chaturvedi

Updated On: Apr, 19 2019 08:09 PM IST

  • -पदाधिकारी से कार्यकर्ता तक परेशान
    -बोले पदाधिकारी, जो करना है अब तक कर देना चाहिए
    -कहा, अब तो कोई मैसेज भी नहीं आ रहा

वाराणसी. लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के लिए नामांकन दाखिले का काम 22 अप्रैल से शुरू हो जाएगा। यह प्रक्रिया 29 अप्रैल तक चलेगी। वक्त बहुत कम बचा है। अब तक प्रत्याशी की घोषणा ही नहीं हो सकी है। ये है कांग्रेस का हाल। ऐसे में दिल की धड़कनों का बढ़ना लाजमी है। पदाधिकारी से लेकर कार्यकर्ता तक परेशान है कि आखिर कब होगी उम्मीदवार की घोषणा।

एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने पत्रिका संग बात करते हुए कहा कि हम लोग अब बहुत परेशानी में हैं। जितनी देर हो रही है उतनी ही चिंता बढ़ती जा रही है। अपने स्तर से जो करना है वह तो किया ही जा रहा है। काफी कुछ कर भी चुके हैं। लेकिन प्रत्याशी न घोषित होने से अब जहां भी जा रहे हैं लोग पूछने लगे हैं कि भाई कब तक आएगा आपका प्रत्याशी। यानी अब जनता के बीच भी खुसफुसाहट होने लगी है। पार्टी के समर्थकों को भी जवाब देते नहीं बन रहा।

वहीं एक अन्य ने कहा कि प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में आने और पूर्वांचल का प्रभारी बनाए जाने के बाद वाराणसी सहित पूरे पूर्वांचल में अच्छा माहौल बन गया था। कार्यकर्ताओं में गजब का उत्साह था। समय से प्रत्याशी की घोषणा हो जाती तो वो कार्यकर्ता दोगुने उत्साह से लग गए होते अब तक। गलियों की खाक छान गए होते। ये हर चुनाव से पहले पता नहीं किससे-किससे सर्वे कराया जाता है। फिर न जाने क्या यमंथन होता है। प्रत्याशी सबसे बाद में देते हैं, नतीजा कि प्रत्याशी को क्षेत्र में घूमने, प्रचार करने का भी वक्त नहीं मिल पाता है। अबकी तो हद ही कर दिया है नेतृत्व ने।

एक कांग्रेस समर्थक प्रतिष्ठित व्यक्ति ने पत्रिका को फोन कर जानना चाहा कि कांग्रेस का प्रत्याशी कौन होगा। कब तक घोषणा होगी। बकौल पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी कब तक सस्पेंस बना रहेगा। अरे प्रत्याशी कोई हो उसे कुछ तो समय मिलना चाहिए। 15-20 दिन में कोई चुनाव खड़ा होता है क्या? वो भी नरेंद्र मोदी के खिलाफ?

पार्टी का होम वर्क जारी

इस बीच कांग्रेस अपनी तैयारी यानी होम वर्क पूरा करने में जुटी है। इसी के तहत शहर के 03 विधानसभा क्षेत्रों के प्रभारी मनोमीत कर दिए गए हैं। महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व पार्षद दल के नेता सीताराम केशरी ने बताया कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव दुर्गा प्रसाद गुप्ता को उत्तर उत्तरी विधानसभा, अफरोज अंसारी को दक्षिणी विधानसभा एवं मणींद्र नाथ मिश्रा को कैंट विधानसभा का प्रभारी नियुक्त किया गया।।

महानगर अध्यक्ष ने बताया कि प्रत्येक बूथ को मजबूत करने के इरादे से महानगर कांग्रेस कमेटी ने प्रत्येक वार्ड में वार्ड अध्यक्ष के साथ-साथ एक वार्ड प्रभारी भी नियुक्त किया है। इलाके से चुनाव लड़े पार्षद प्रत्याशी व पार्षद को उस वार्ड की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही लोग अपने वार्ड के प्रमुख कांग्रेस जन एवं प्रबुद्ध जनों से मिलकर सामंजस्य बनाने में पूरी तरह से जुट गए हैं।

यही नहीं प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र की बैठकों का क्रम जारी है।अब वार्डों में भी बैठकों का दौर शुरू हो चुका है। यही नहीं शहर के 90 वादों को छोटे-छोटे टुकड़ों में बांट कर उस वार्ड के अंतर्गत आने वाले महानगर पदाधिकारियों को तीन-तीन वार्डों की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

सभी फ्रंटल संगठन युवक कांग्रेस, महिला कांग्रेस, सेवादल ,राष्ट्रीय छात्र संगठन ,अनुसूचित जाति, विधि प्रकोष्ठ, अल्पसंख्यक विभाग को भी विधानसभा की जिम्मेदारी सौंपी गई है। महानगर अध्यक्ष ने बताया कि वाराणसी में हम सब चुनाव की पूरी तरह से तैयारी कर चुके हैं बस पार्टी हाईकमान द्वारा प्रत्याशी की घोषणा की प्रतीक्षा है।

 

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

UP Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App .

 

Published On:
Apr, 19 2019 08:09 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।