वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस आये सीएम योगी आदित्यनाथ ने दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन शुक्रवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। एनडीआरएफ के साथ बोट में बैठ कर खुद बाढ़ की स्थिति देखी। सीएम ने अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित लोगों की हर संभव मदद करने को कहा है। बनारस में इस समय गंगा का पानी वार्निंग लेवल से थोड़ा नीचे बह रहा है। गंगा व वरुणा के जलस्तर में वृद्धि होने से किनारों पर रहने वालों के घरों में पानी घुस चुका है जिसके चलते उन्हें पलायन करना पड़ा है।
यह भी पढ़े:-पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ



सीएम योगी आदित्यनाथ सुबह भैंसासुर घाट पहुंचे। यहां पर कोनिया घाट से वरुणा नदी हुए गंगा के बढ़ जलस्तर को देखा। एनडीआरएफ के साथ बोट में सवार हो कर सीएम ने देखा कि गंगा में बाढ़ की स्थिति क्या है। इसके बाद सीएम योगी ने खुद बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत सामग्री भी प्रदान की। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ भैंसापुर घाट स्थित संत रविदास मंदिर गये और फिर वहां से वापस सर्किट हाउस पहुंचे। सर्किट हाउस में कुछ देर रुकने के बाद पुलिस लाइन गये और वहां से हेलीकाप्टर से लखनऊ वापस चले गये।
यह भी पढ़े:-पहली बार मंत्री बन कर लौटने पर कार्यकर्ताओं ने उतारी आरती



समीक्षा बैठक में अधिकारियों को लगायी थी फटकार, रात में किया था शहर का भ्रमण
सीएम योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर २२ अगस्त की शाम को बनारस पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने समीक्षा बैठक में विकास कार्यों में लापरवाही बरतने पर अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी थी। इसके बाद बाबा काल भैरव मंदिर में जाकर दर्शन किया था इसके बाद काशी विश्वनाथ कॉरीडोर देखने गये थे। सीएम रात में शहर का भ्रमण कर सड़कों व साफ-सफाई की व्यवस्था को भी देखा था।
यह भी पढ़े:-सीएम योगी आदित्यनाथ ने पहली बार दिये यह निर्देश, अधिकारियों की उड़ गयी नीद

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।