पंडित के दिमाग में चढ़ गया बुखार तो पुलिस को सुना दी ये कहानी

By: anil mukati

Published On:
Aug, 13 2019 07:00 AM IST

  • बोला इंजेक्शन लगाकर 10 हजार ले गए, पुलिस ने तीन दिन तक की जांच तो निकली झूठी कहानी

उज्जैन. इंदिरानगर में चार दिन पहले एक पंडित ने महिला-पुरुष द्वारा बेहोशी का इंजेक्शन लगाकर 10 हजार रुपए लूटने की शिकायत झूठी निकली है। दरअसल पंडित को मस्तिष्क बुखार आया था लिहाजा उसे लगा कि किसी ने उसे इंजेक्शन लगाकर लूट लिया है। शिकायत के बाद पुलिस ने तीन दिन तक जांच की, आसपास सीसीटीवी कैमरे खंगाले और घटनाक्रम के आधार से बयान लिए तो ऐसी कोई घटना सामने नहीं आई।
इंदिरागनर में खुद की साथ लूट होने की शिकायत गोविंद (22) पिता शिवलाल शर्मा ने ९ अगस्त की रात्रि ढाई बजे चिमनगंजमंडी थाने में की थी। उसने बताया कि वह घर पर अकेला था। एक महिला और पुरुष उसके पास आए। दोनों ने उसके मुंह पर कपड़ा बांध दिया और बेहोशी का इंजेक्शन लगा दिया। जब उसे होश आया तो उसके पास 10 हजार रुपए लूटकर ले गए। इसके बाद से सक्रिय हुई पुलिस ने जांच शुरू कर दी। जांच अधिकरी इदरिस खान ने बताया कि इंदिरागनर में पंडित किराए के मकान में अकेला रहता है। पूछताछ में उसने अपने साथ लूट की घटना ९ अगस्त की रात 8 से 8.30 बजे की बताई। इसके बाद वह रात में ही जिला अस्पताल में भर्ती होने चला गया। वहां से रात 2.30 बजे थाने में उसने शिकायत दर्ज करवाई। जब मकान मालिक घनश्याम दास से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि उनका परिवार रात 12.30 से 1 बजे तक जागता है इस दौरान मकान में कोई नहीं आया। मुख्य गेट का दरवाजा लोहे का है अगर वह जरा-सा खुलता है तो पता चल जता है। वहीं आसपास के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले तो कोई भी महिला-पुरुष मकान में जाते या निकलते नहीं दिखे। जांच में सामने आया कि पंडित ने पास के एक आरएमपी डॉक्टर को दिखाया था। उसने उसे इंजेक्शन लगाया था। उसे मस्तिष्क ज्वर हुआ है। शायद इसी कारण उसे आभास रहा कि किसी ने इंजेक्शन लगाकर उसे लूट लिया। हालांकि पंडित द्वारा झूठी शिकायत पर पुलिस ने फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की है।
शराब के नशे में झूम रहे व्यक्ति की नाले में डूबने से मौत
शराब के आदी एक व्यक्ति की मौत नाले में गिरने से हो गई। सुबह नाले में उसकी लाश दिखी तो लोगों ने भैरवगढ़ पुलिस को सूचना दी। भैरवगढ़ टीआई जयसीराम बरड़े ने बताया कि मृतक मोहनलाल पिता नंदाजी निवासी ग्राम चकरवदा ग्रिड का है। वह रविवार शाम को घर से निकला था। उसके बाद से वापस नहीं लौटा था। सुबह उसकी लाश ग्राम रुइ के पास एक नाले से मिली। उसके बेटे गणेश ने आकर उसकी शिनाख्त की। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि मोहनलाल शराब का आदी था। रविवार रात वह शराब के नशे में घूम रहा था तो कुछ लोगों ने उसे देखा भी था। संभवत: शराब के नशे के चलते नाले में गिर गया। इससे डूबने से उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है।

Published On:
Aug, 13 2019 07:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।