संगठन से सदस्यों को जोडऩे में संभाग के भाजपा पदाधिकारी पर नाराजगी

By: rishi jaiswal

Updated On:
13 Aug 2019, 08:00:00 AM IST

  • भाजपा प्रदेशाध्यक्ष व संगठन मंत्री ने संभागभर के नेताओं की ली क्लास मिस्ड कॉल के बाद जो एेप पर विवरण भरेंगे तभी मानी जाएगी सदस्यता

उज्जैन. संभाग की तीन लोकसभा सीटों पर सदस्यता अभियान की कमजोर स्थिति पर भाजपा प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत ने नाराजी जताई। वे बोले कि जब जनता के बीच पार्टी को लेकर अच्छा माहौल है तो फिर हम इसे अपने पक्ष में ठीक से क्यों नहीं कर पा रहे। इंदौर रोड स्थित निजी होटल में प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह की मौजूदगी में उन्होंने संभागभर से आए सांसद, विधायक व पार्टी पदाधिकारियों की क्लास ली। तीनों लोकसभा क्षेत्र में अभियान को अपेक्षित गति नहीं मिलने पर उन्होंने निराशा जाहिर करते हुए २० अगस्त तक दिन-रात एक कर अधिक से अधिक सदस्य जोडऩे का आह्वान किया। बता दें, पहले डेडलाइन ११ अगस्त थी, लेकिन अपेक्षानुरूप सदस्य नहीं बनने पर इसे बढ़ाया गया।
संभागीय समीक्षा बैठक में लोकसभावार विधिवत सदस्यों के आंकड़े भी पेश किए गए, जिसमें सर्वाधिक सदस्य मंदसौर-नीमच क्षेत्र, दूसरे नंबर पर उज्जैन-आलोट व तीसरे पर देवास-शाजापुर लोकसभा है। साथ ही जिन विधानसभाओं में सदस्यता का आंकड़ा बेहद कमजोर है वहां के विधायक व पार्टी पदाधिकारियों से भगत व प्रदेशाध्यक्ष सिंह ने बंद कमरे में वन टू वन चर्चा की। बैठक में राज्यसभा सांसद सत्यनारायण जटिया, सांसद सुधीर गुप्ता, अनिल फिरोजिया, सांसद महेंद्र सोलंकी, प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुणावत, पंकज जोशी आदि मंचासीन रहे। बैठक से नेताओं ने देवास रोड स्थित राजेन्द्र सूरी शोध संस्थान में पौधरोपण किया।
उज्जैन उत्तर-दक्षिण में भी कमजोर दशा
उज्जैन उत्तर विस क्षेत्र में ५५०० व दक्षिण विस क्षेत्र ५६०० सदस्य बनाए गए हैं। इस आंकड़े को भी प्रदेश स्तरीय नेताओं ने काफी कम बताया और कहा कि क्या दोनों सीट मिलाकर इतने कम सक्रिय सदस्य हैं, जो ये संख्या ५ के अंक तक भी नहीं पहुंची। प्रदेशाध्यक्ष सिंह ने प्राण व प्रण के साथ संगठन पर्व में जुटने की सीख दी।
मीडिया से दूरी, दर्शन कर हुए रवाना
प्रदेशाध्यक्ष सिंह व संगठन मंत्री भगत ने दौरे से लेकर बैठक तक मीडिया से दूरी बनाए रखी। निजी होटल में केवल अपेक्षित कार्यकर्ताओं को ही प्रवेश दिया। इसके बाद दोनों महाकालेश्वर मंदिर दर्शन करने पहुंचे, यहां मीडिया ने कुछ चर्चा करना भी चाहा लेकिन दोनों ने दूरी बना ली। इसी दौरान यहां भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी मंदिर पहुंचे।
अक्टूबर में पार्टी चुनाव, पहले मंडलों में
संगठन मंत्री भगत ने बैठक में कहा कि संगठन पर्व के बाद संगठन में लोकतांत्रिक प्रणाली से पदाधिकारियों के चुनाव होंगे। पहले मंडलों में फिर भी नगर जिला पदाधिकारियों का निर्वाचन होगा। इसके लिए उन्होंने प्रक्रिया बताई और कहा कि बूथ स्तर तक हमें संगठन को मजबूत बनाना है। बैठक का संचालन प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर ने किया। शुरुआत में पूर्व विदेश मंत्री स्व. सुषमा स्वराज को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई।
मिस्ड कॉल से नहीं, जो विवरण भरेगा, उसी की सदस्यता
केवल मिस्ड कॉल से सदस्यता दर्ज नहीं हो रही। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को एेप पर जाकर पूरा विवरण भरना भी जरूरी है। ये प्रक्रिया होने पर ही सदस्यता प्रदान होती है। इसके लिए सक्रिय सदस्यों को अलग से मेहनत करना पड़ रही है। २० अगस्त तक ये प्रक्रिया होगी और सत्यापन के बाद ३० अगस्त तक फाइनल आंकड़ा पेश हो पाएगा कि किस विस या लोस क्षेत्र में कितने नए सदस्य जुड़े हैं।
अब तक इतने बने सदस्य
उज्जैन-आलोट - ४२१६१
मंदसौर-नीमच - ४३२००
देवास-शाजापुर - ४१९००
(आंकड़ा वर्तमान स्थिति का, २० अगस्त तक चलेगा अभियान )

Updated On:
13 Aug 2019, 08:00:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।