दो साल के इंतजार के बाद आखिरकार छलका वल्लभनगर का सरजणा बांध

By: Sushil Kumar Singh Chauhan

Updated On:
11 Sep 2019, 06:00:00 AM IST

  • water over flow सितम्बर में भी उदयपुर पर मेहरबान है मानसून

उदयपुर. water over flow उदयपुर पर बुधवार को भी मानसून मेहरबान बना रहा। लगातार पानी की आवक के बीच वल्लभनगर क्षेत्र स्थित सरजना बांध भराव क्षमता के 19.5 फीट के दायरे को पारकर छलक पड़ा। दो वर्ष बाद लोगों ने इसे छलकता देख उत्सुकता दिखाई। स्थानीय लोग बांध छलकने की खुशी में मौके पर पहुंचे। दूसरी ओर सुबह तेज उमस के बाद दोपहर तीन बजे आसमान में छाए काले बादल यहां बरस पड़े। इस बीच आकाशीय बिजली का कड़कना भी जारी रहा। करीब 15 से 20 मिनट तक हल्की और तेज बारिश का क्रम बना रहा। इससे पहले सुबह के समय आसमान खुला था। धूप खिली और उमस से लोग परेशान रहे। दोपहर बाद हवा के साथ तेज बारिश शुरू हुई। अंधेरा छाने से वाहनधारियों को वाहनों की लाइटें जलानी पड़ी। शहर के सुखेर, भुवाणा, फतहपुरा, रूपसागर, हिरण मंगरी सहीत शहर में कई जगह बारिश हुई। बारीश से शहर की सड़कों पर जगह-जगह पानी भर गया। गुलाब बाग रोड, उदियापोल, सूरजपोल, बापू बाजार, देहली गेट, धानमंडी, तीज का चौक, चेतक सर्कल, सुखाडि़या सर्कल, फतहपुरा, युआइटी सर्कल सहित अन्य इलाकों की सड़कों पर बारिश का पानी भर गया। बारिश के पानी से वाहनधारियों को भी परेशानी हुई। इस दौरान कई वाहन बारिश के पानी से बंद हो गए।सिंचाई विभाग के अनुसार स्वरूपसागर पर 27 एमएम, मदार पर 8एमएम, बागोलिया में 2 एमएम बारिश दर्ज की गई। सीसारमा नदी 4.30 फीट से बढ़कर साढ़े छह फीट तक बही। वहीं स्वरूसागर का दो गेट खोल रखे हंै। इसमें से एक गेट 1 फीट व एक गेट 6 इंच खुला हुआ है। water over flow वहीं उदयसागर के दो गेट 1-1 फीट खुले हुए हंै।

Updated On:
11 Sep 2019, 06:00:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।