संयुक्त बढ़त पर जोधपुर की वंशिका व उदयपुर की हीना

By: Sushil Kumar Singh

|

Published: 13 Aug 2019, 06:00 AM IST

Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर. Open Chess tournament चेस इन लेकसिटी ( Chess in lack city) की मेजबानी में बुद्धिबल सेवा संस्थान, ऑल राजपुताना शतरंज संघ, अखिल भारतीय शतरंज महासंघ ( Chess Federation of India ), विश्व शतरंज महासंघ के तत्वावधान में स्मार्ट गर्ल क्विन्स ऑल इण्डिया फिड़े रेटिंग ओपन शतरंज प्रतियोगिता में चौथे दिन के मुकाबले रोचक रहे। खिलाडिय़ों के बीच संघर्षपूर्ण मुकाबले हुए। यहां सातवें चक्र के बाद जोधपुर की वंशिका ने लेकसिटी की दक्षिता कुमावत को, लेकसिटी की हीना काक ने खुशी मिश्रा को हराकर ६ अंक से बढ़त ली। इसी तरह अर्पिता जैन ने आन्या चावत, अनिशा जैन ने हीना साहू को हराकर 5.5 अंक, जयपुर की याशिका सिंह ने अक्षिता जैन से ड्रॉ, चार्वी पाटीदार ने दीपिका साहू, गुजरात की अनिला शाह ने सृष्टि भट्नागर, जयपुर की सौम्या जैन ने वैशाली मिश्रा, गायत्री कटारिया ने दीया दोषी को हराकर 5 अंक, पंजाब की श्रीनी भट्टाचार्य ने उत्सवी दवे से ड्रॉ, तमन्ना गुप्ता ने चुरू की हिमांशी ओला, कर्नाटक की प्रदीक्षा ने चाहना जैन को हराकर 4.5 अंक, मध्य प्रदेश की अवंतिका गुप्ता ने चित्तौडगढ़ की परिधी, पलक शर्मा ने इशिका बापना, भव्या जैन ने प्रकृति शर्मा, कोमल कुमावत ने सम्भवी सिंन्हा, महिमा सालवी ने तारा सालवी, चुरू की मनीषा जाजरिया ने सताक्षी को 4 अंक, लेकसिटी की हितांशी ने अपूर्वा, चित्तौडग़ढ़ की इशिका पोरवाल ने नेहल तलेसरा, लेकसिटी की खुशी मेनारिया ने किंजल, निरूपमा पुराहित ने आयत बज़ाज़ को हराकर 3.5 अंक, दिशा यादव ने ओरा चपलौत, आयषा बागला ने रूद्रप्रिया, छवि जैन ने दिशिता माहेश्वरी को हराकर 3 अंक, वंशिका बंदवाल ने दिव्यांगना वर्मा, धुन भुत ने रितिशा जैन को हराकर 2.5 अंक, चित्तौडग़ढ़ की मनस्वी डागा ने मोनिष्का साहू को हराकर 1 अंक के साथ बढ़त बनाई। Open Chess tournament

विनिशा ने जीता स्वर्ण
उदयपुर. राजसमंद में हुए राजस्थान इंटर जोन वुशू प्रतियोगिता में उदयपुर की विनिशा जोशी ने 52 किलो भार वर्ग में बेहतरीन फाइट कर स्वर्ण पदक हासिल किया। Open Chess tournament राजस्थान वुशू संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विष्णु जोशी ने बताया कि उदयपुर के गजेन्द्रपुरी गोस्वामी, अर्पित जोशी, विराट पंत, चुन्नीलाल चन्देरिया, पूजा रत्नु, शरद कुमार धनवात ने निर्णायक की भूमिका अदा की। राजसमन्द पुलिस अधीक्षक भूवण भूषण यादव ने विनिशा को सम्मानित किया ।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।