‘चार’ चेहरों पर छिडक़ी ‘बेरोजगारी की चाशनी’

By: bhuvanesh pandya

Updated On:
12 Jun 2019, 08:41:49 AM IST

  • पूरे प्रदेश में सरकार को दिखे केवल साढ़ेचार लाख बेरोजगार, जबकि हैं लम्बी कतार

    -उदयपुर में केवल 234 को भत्ता, अंकेक्षण में सात हजार बताए

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. सरकार ने केवल चार चेहरों पर बेरोजगारी की चाशनी छिडक़ी है। यानी प्रदेश सरकार की नजर में पूरे राजस्थान में केवल साढ़े चार लाख युवाओं को ही बेरोजगार माना है, हालांकि इन सभी को अब तक बेरोजगारी भत्ता नहीं मिला है। काफी कम युवाओं को पात्र माना गया है, जबकि प्रदेश में बेरोजगारों की संख्या सरकारी आंकड़े से कहीं ज्यादा है। राज्य में सर्वाधिक बेरोजगार सीकर में 52 हजार 803 तो राजधानी जयपुर में 49 हजार 278 है, वहीं सबसे कम 1567 जैसलमेर जिले में हैं। अलवर और झुंझुनूं में 30 हजार से अधिक बेरोजगार बताए गए हैं।
-----

ये है स्नातक उत्तीर्ण, यानी बेरोजगार

सरकार ने इन स्नातक उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को बेरोजगारी की सूची में लिया है। बेरोजगारी भत्ता योजना के तहत फिलहाल प्रदेश में 2019 की शुरुआत तक प्रत्येक जिले के अभ्यर्थियों को शामिल किया था। टॉप फाइव
जिला बेरोजगारों की संख्या

सीकर 52 हजार 803

जयपुर 49 हजार 278
अलवर 37 हजार 989

झुंझुनूं 31 हजार 775
दौसा 23 हजार 507

न्यूनतम जिला बेरोजगारों की संख्या
जैसलमेर 1567

डूंगरपुर 3732

प्रतापगढ़ 3015

राजसमन्द 3996

चित्तौडगढ़़ 4156

------

अन्य जिले

जिला बेरोजगारों की संख्या

उदयपुर 7302
अजमेर 8876

बारां 6538
बाड़मेर 4893

बांसवाड़ा 6538
भरतपुर 21049

भीलवाड़ा 6551
बीकानेर 10596

बूंदी 8279
चूरू 21339

धौलपुर 7795
श्रीगंगानगर 15409

हनुमानगढ़ 13131
जालोर 5077

झालावाड़ 8315
जोधपुर 13692

करौली 13163
कोटा 11242

नागौर 17292
पाली 7284

सवाईमाधोपुर 12851
सिरोही 6326

टोंक 12621
वर्ष 2012 से शुरुआत

- राज्‍य सरकार की ओर से बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने के लिए 1 जुलाई, 2012 से अक्षत योजना लागू की गई थी । 31 दिसम्‍बर, 2018 तक 2700 पात्र स्‍नातक बेरोजगार पुरुष आशार्थी को 650/- रुपए एवं महिला व विशेष योग्‍यजन आशार्थियों को 750/- रुपए की दर से 148.19 लाख रुपए भत्ते की राशि के रूप में वितरित किए गए।

----

अभी ये दर :

पुरुष रुपए: 3000/- प्रतिमाह

महिला एवं विशेष योग्‍यजन: रुपए 3500/- प्रतिमाह

-----

पहले तो चुने ही कम। बाद में चयनित में से भी 7068 बेरोजगारों को अब तक भत्ते की फूटी कोड़ी तक नहीं मिली। अभी उदयपुर जिले में 7302 बेरोजगार हैं, जबकि सरकार ने फरवरी से अपे्रल तक तीन माह की राशि जिले के केवल 234 बेरोजगारों को जारी की है। मई की राशि फिलहाल नहीं मिली।

----

प्रयास कर रहे हंै कि अब नियमित हो जाए

जिले में बेरोजगारों की संख्या तो ज्यादा है, लेकिन फिलहाल जो राशि रही है, उसे दे रहे हैं। जिले में अब तक 234 बेरोगारों को भत्ता दिया जा रहा है। प्रयास है कि जितने भी बेरोजगार चिह्नित किए गए हैं, उन सभी को समय पर भत्ता दिया जाए।

प्रेमाराम सोलंकी, सहायक निदेशक

प्रादेशिक रोजगार कार्यालय, उदयपु

Updated On:
12 Jun 2019, 08:41:49 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।