लोगों के खिले चेहरे

By: Surendra Singh Rao

Updated On:
11 Sep 2019, 02:40:59 AM IST

  • (bagoliya dem)

    मावली के बागोलिया बांध में हो रही है पानी की आवक, सवा 2 फीट पानी की आवक

उदयपुर. मावली (निप्र). मावली तहसील क्षेत्र के सबसे बड़े बांध बागोलिया तालाब में लम्बे समय के बाद पानी की आवक देखने को मिल रही है। जिससे मावली क्षेत्र ही नहीं अपितु आसपास के क्षेत्रों में भी खुशी का माहौल है।
मंगलवार शाम तक बागोलिया तालाब में सवा 2 फीट पानी आ चुका है। लम्बे समय बाद बागोलिया तालाब में पानी की आवक से बडियार निवासी हीं नहीं अपितु मावली तहसील क्षेत्रभर से ग्रामीण तालाब पहुंच रहे हैं तथा बागोलिया का नजारा देख उत्साहित हो रहे हैं। इधर, बागोलिया तालाब में पानी की आवक की सूचना से गांव से युवाओं में हर्ष की लहर दौड़ पड़ी। बांध पर सैकड़ों लोग पहुंच रहे है। इधर, अच्छी वर्षा के चलते बांध के कैचमेंट एरिया के कई एनिकट एवं तालाब लबालब हो चुके हंै। जिससे अब इनका पानी तालाब में पहुंचना शुरू हो गया। निरंतर पानी की आवक हो रहीं है।

गौरतलब है कि राजस्थान पत्रिका के 3 सितंबर के अंक में हे राम ! वनवास पूरा कर चुके बागोलिया को अब तो भर दो शीर्षक से समाचार प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

अब झाडिय़ा बन रही मुसीबत
ग्रामीणों ने बताया कि 14 वर्षो से खाली बागोलिया बांध भर रहा है। परन्तु सिंचाई विभाग द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया गया है। यहां बंाध की पाल पर लगे कई अनावश्यक पौधे एवं बड़े-बड़े विलायती बबूल परेशानी पैदा कर सकते हैं। विभाग द्वारा बांध के भरने से पूर्व कोई इंतजाम नहीं करते हुए इनकी कटाई कर साफ नहीं किया गया। जिससे अब बांध भरने की स्थिति में परेशानी उत्पन्न हो सकती है।

बांध की मोरी का ढक्कन टूटा, हो सकता है हादसा
उपसरपंच पुष्करलाल गुर्जर ने बताया कि बागोलिया बांध की मोरी का वर्तमान में ढक्कनन टूट गया है। जिससे हादसा हो सकता है।

Updated On:
11 Sep 2019, 02:40:59 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।