क्वार्टर फाइनल में अंपायर के निर्णय से उपजा विवाद

क्वार्टर फाइनल में अंपायर के निर्णय से उपजा विवाद

हिण्डौनसिटी. शिक्षा विभाग की ओर से खेड़ा गांव स्थित सौरभ एज्यूकेशन कैम्पस में चल रही 64वीं राज्य स्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता में मंगलवार को उदयपुर व बाड़मेर की टीमों के बीच खेले गए मैच में अंपायर के निर्णय बदलने से विरोध की स्थिति उत्पन्न हो गई। बाड़मेर के प्रशिक्षक व खिलाडिय़ों ने मैदान पर विरोध प्रदर्शन कर आपत्ति जताई और कलक्टर को शिकायत भेज मामले की जांच कराने की मांग की।


बाड़मेर टीम के कप्तान भवानी व उपकप्तान अरविन्द ने बताया कि मैदान नं. दो पर बाड़मेर व उदयपुर की टीमों के बीच मैच हुआ। जिसमें उदयपुर टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 15 ओवर में 75 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी बाड़मेर की टीम को जीत के लिए 15वें ओवर की अंतिम गेंद पर मैच जीतने के लिए दो रन चाहिए थे। बल्लेबाज मदनसिंह ने अंतिम गेंद पर six लगाया। जिसे उदयपुर के फील्डर ने बाउंड्री लाइन पर कैच कर लिया। इस पर अंपायर ने भी इसे six बता निर्णय दे दिया। मैच जीतने से बाडमेर की टीम मैदान में जीत की खुशी मनाने लगी। लेकिन इस निर्णय का विरोध जता उदयपुर के टीम के कोचों दबाव बनाया तो अंपायर ने अपना निर्णय बदल बल्लेबाज को आउट कर दिया। जिससे बाड़मेर टीम मैच हार गई।

खिलाडियो का आरोप है अंपायर के निर्णय बदलने के विरोध में प्रतियोगिता संचालन समिति से शिकायत की गई, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं की गई। मामले में संयुक्त संचालन सचिव मनीष पाठक का कहना है कि प्रतियोगिता में ऐसी कोई बात नहीं हुई। न ही बाड़मेर की टीम ने कोई शिकायत दर्ज कराई। कलक्टर को शिकायत भेजने के बारे में जानकारी नहीं है।

READ SOURCE