JAISALMER NEWS- रात को इस जगह पहुंचे जिला कलक्टर, तो जुट गई लोगों की भीड़ फिर हुआ कुछ ऐसा कि कलक्टर को कहना पड़ा...

JAISALMER NEWS- रात को इस जगह पहुंचे जिला कलक्टर, तो जुट गई लोगों की भीड़ फिर हुआ कुछ ऐसा कि कलक्टर को कहना पड़ा...

फतेहगढ़ अटलसेवा केंद्र में रात्रि चौपाल का हुआ आयोजन
फतेहगढ़ . उपखंड मुख्यालय स्थित अटल सेवा केंद्र में शुक्रवार रात को हुई रात्रि चौपाल में जिला कलक्टर कैलाश चंद मीणा ने आमजन की समस्याएं सुनी। उन्होंने सरकार की विभिन्न योजनाओं को जरूरतमंदों तक पहुंचाने तथा बालिकाओं को उच्च शिक्षा से जोडऩे की बात कही। इस दौरान उपस्थित नि:शक्तजन बहादुरखां, अणदाराम, गेनाराम, जमशेरखां के प्रति कलक्टर ने संवेदनशीलता दिखाई। दोनों पैर व एक हाथ से विकलांग बहादुरखां निवासी मुगर की ढाणी फतेहगढ़ को 1.5 लाख रुपए का आवास व तहसील कार्यालय में स्टॉम्पवेंडर का लाइसेंस दिलाने तथा अन्य विशेष योग्यजन को महानरेगा योजना के तहत 3 लाख रुपए तक के व्यक्तिगत लाभ के कार्यों के लिए निर्देश दिए।

चौपाल में कोडियासर गांव के बंद सरकारी नलकूप को सुचारू करवाने, बचाये की ढाणी फतेहगढ़ में पेयजल समस्या, कोडियासर में घरेलू विद्युत आपूर्ति चौबीस घंटे करवाने, शेराराम चौधरी की ढाणी को विद्युतीकरण योजना से जोडऩे राप्रावि बिंजे की ढाणी कोडियासर में अध्यापक आवास स्वीकृत करवाने की मांग की। फतेहगढ़ सरपंच सवाईलाल सैन ने राउमावि फतेहगढ़ में मर्ज हुए बालिका उप्रावि को पुन: चालू करवाने, फतेहगढ़ में पंचायत समिति मुख्यालय स्वीकृत करवाने, पीएचसी को सीएचसी में क्रमोन्नत करवाने, चौधरियों की ढाणी से पाबनासर तक क्षतिग्रस्त सडक़ मरम्मत करवाने की मांग की।

Jaisalmer patrika

वंचित ढाणियां हो विद्युतिकृत
ग्रामीणोंं ने बताया कि फतेहगढ़ में कई ढाणियां अब भी बिजली से वंचित हैं। इस पर कलक्टर ने चौपाल में उपस्थित डिस्कॉम सहायक अभियंता रमेश बारूपाल को ढाणियों का विद्युतीकृत करने के निर्देश दिए।
खाद्य सुरक्षा सूची का करें सत्यापन
ग्रोमीण सगंरखां ने राशन के गेहूं नहीं मिलने कि शिकायत की। इसपर कलक्टर राशन डीलर सुभानखां से खाद्य सुरक्षा योजना के लाभान्वितों की सूची की जानकारी ली। उन्होंने पटवारी ग्रामसेवक व कृषि पर्यवेक्षक को निर्देश दिए कि खाद्य सुरक्षा सूची का डोर टू डोर सत्यापन करें।
शिक्षण व्यवस्था सुधारने के निर्देश
ग्रामीणों ने राउमावि में शैक्षणिक व्यवस्था ठीक नहीं होने व विद्यालय समय पर शिक्षकों के नहीं आने की शिकायत की। इस पर उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी व प्रधानाचार्य को विद्यालय वातावरण सुधारने व शिक्षकों को समय पर उपस्थित होने के लिए पाबंद करने के निर्देश दिए। चौपाल के दौरान विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Jaisalmer patrika
READ SOURCE