विवरण :

भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम के 1934 के तहत रिजर्व बैंक की स्थापना की गई। शुरुआत में भारतीय रिजर्व बैक का हेड ऑफिस कोलकाता हुआ करता था, लेकिन बाद में इसे बदलकर मुंबई कर दिया गया। यही बैठकर सभी नीतियाँ निर्धारित की जाती हैं। वर्ष 1949 के बाद भारतीय रिजर्व बैंक भारत सरकार के पूर्ण स्वामित्व में आ गया। मौद्रिक स्थिरता प्राप्त करने की दृष्टि से बैंकनोटों के निर्गम को विनियमित करना तथा प्रारक्षित निधि को बनाएं रखना और सामान्य रूप से देश के हित में मुद्रा और ऋण प्रणाली संचालित करना, अत्यधिक जटिल अर्थव्यवस्था की चुनौती से निपटने के लिए आधुनिक मौद्रिक नीति फ्रेमवर्क रखना, वृद्धि के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए मूल्य स्थिरता बनाए रखना भारतीय रिजर्व बैंक का मुख्य कार्य है।

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।