विवरण :

1 फरवरी को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) बजट पेश करेंगी। निर्मला सीतारमण का यह दूसरा बजट होगा। लेकिन कई मायनों में सरकार के लिए यह बजट (Union Budget 2020) काफी अहम होगा। क्योंकि यह बजट ऐसे समय में पेश हो रहा है जब देश में धीमी अर्थव्यवस्था, करीब 11 साल के निचले स्तर पर GDP, खऱाब मांग, दिसंबर में मुद्रास्फिति की दर का निगेटिव आकलन, रोजगार के आकड़े निराशाजनक है। ऐसे में सरकार के लिए यह बजट चुनौतियों भरा रहने वाला है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।