राजकोट के युवक ने जयपुर में फंदे से झुल कर की आत्महत्या

By: Pawan Kumar Sharma

Published On:
Jun, 12 2019 10:07 AM IST

  • ना की जानकारी मिलने पर परिजन युवक के शव को फंदे से उतार गांव लेकर आ गए।

दूनी. दूनी थाना क्षेत्र के राजकोट निवासी युवक ने जयपुर के महेशनगर थाना क्षेत्र में स्थित एक मकान में सोमवार रात छत पर लगे कडे से रस्सी का फंदा लगा आत्महत्या कर ली।

 

रात को ही घटना की जानकारी मिलने पर परिजन युवक के शव को फंदे से उतार गांव लेकर आ गए। सूचना के बाद दूनी पुलिस ने स्थानीय अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप मर्ग की जीरो नम्बर एफआईआर दर्ज कर महेशनगर थानाप्रभारी जयसिंह को सूचित कर दिया।

 

पोल्याड़ा पुलिस चौकी के हैड कांस्टेबल राजेन्द्र यादव ने बताया कि मृतक राजकोट हाल झटपट के बालाजी थाना महेशनगर (जयपुर) निवासी मनराज (22) पुत्र शिवराज मीणा है। उन्होंने बताया कि सभी परिजन बाहर गए थे।

 

इस दौरान मनराज ने अपने कमरे में जाकर रस्सी का फंदा छत की एंगल पर फंदा लगा कर झूल गया। परिजनों के आने के बाद घटना की जानकारी मिली। आनन-फानन में परिजनों ने शव को पिकअप में रख गांव ले आए।

 

बाद में ग्रामीणों व परिजनों की समझाइस के बाद शव को दूनी अस्पताल लेकर आए ओर पोस्टटमार्टम कराया। थानाप्रभारी नरेश कंवर ने बताया कि मनराज जयपुर के महेशनगर स्थित झटपट बालाजी मंदिर के पास किराए के मकान में रह अपनी निजी पिकअप चलाता था, जबकि उसके पिता, मां व पत्नी वहां मजदूरी कर अपना जीवन यापन कर रहे थे।


पहले पिता ने खाना बनाकर खिलाया
पुलिस ने बताया कि सोमवार देर शाम पिकअप चला घर पहुंचा तो पत्नी व मां किसी समारोह में पुडिय़ां बेलने गई थी। इस पर घर पर मौजूद पिता ने खाना बनाया और पुत्र मनराज को खिला स्वयं भी खाया। इसके बाद मनराज कमरे में सोने चला गया। रात 11 बजे पत्नी व मां के घर लौटने पर उन्होंने देखा तो मनराज फंदे से लटका मिला।

 

विवाहिता ने पीहर में फंदा लगाया
देवली. थाना क्षेत्र के सेन्दियावास गांव में मंगलवार शाम 20 वर्षीय विवाहिता ने फंदा लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। घटना का पता परिजनों को विवाहिता के कमरे में झुलते पाए जाने पर लगा।

 

सूचना पर उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी ने अस्पताल मोर्चरी में पहुंचकर घटना की जानकारी ली।
उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी ने बताया कि विवाहिता सोना पत्नी रोहित मीणा निवासी सरस्या थाना जहाजपुर है। विवाहिता का गत दो माह पूर्व ही सरस्या निवासी रोहित के साथ विवाह हुआ था।

 

हांलाकि वह पिछले एक माह से अपने पीहर सेन्दियावास रह रही थी। जहां उसने मंगलवार शाम अज्ञात कारणों के चलते फंदा लगाकर जान दे दी। सूचना पर पुलिस उपाधीक्षक नानगराम मीणा, थाना प्रभारी गयासुद्दीन, निरीक्षक पुष्पा कासौटिया सहित अधिकारी अस्पताल स्थित मोर्चरी में पहुंचे।

 

जहां उन्होंने मृतका के पीहर व ससुराल पक्ष से बात की। दोनों ही पक्ष ने मौत का फिलहाल कोई कारण नहीं बताया है। वहीं दोनों पक्षों ने पोस्टमार्टम के लिए मना कर दिया था, लेकिन अधिकारियों ने समझाइश कर शव का पोस्टमार्टम कराया। इस दौरान एएसआई रामकुमार मीना ने पंचनामा तैयार कर शव का पोस्टमार्टम कराया। वहीं घटना की सूचना पर पीहर व ससुराल पक्ष से दर्जनों लोग मोर्चरी के बाहर जमा हो गए।

Published On:
Jun, 12 2019 10:07 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।