शिक्षा विभाग में सेटअप परिवर्तन का दौर जारी, परिवेदनाओं के निस्तारण नही होने से शिक्षकों में असन्तोष

By: Pawan Kumar Sharma

Updated On:
12 Jun 2019, 08:56:13 PM IST

  • शिक्षकों का आरोप है कि विगत दिनों हुई काउंसलिंग में इनको अन्य तहसीलों मे भेज दिया गया, जबकि उनके विषयों के नजदीकी विद्यालयों में पद रिक्त थे।

आवां-शिक्षा विभाग में शिक्षकों के सेटअप परिवर्तन का दौर जारी है। प्रारम्भिक शिक्षा के अधिशेष शिक्षकों को वरिष्ठता आधार पर माध्यमिक शिक्षा विभाग में विषयानुसार पदस्थापित किया जा रहा है।

 

6 डी के इस समानीकरण अभियान के तहत मंगलवार को टोंक स्थित माध्यमिक शिक्षा विभाग कार्यालय में लेवल 2 के 17 शिक्षकों की काउंसलिंग कर पदस्थापन आदेश जारी किए गए, जिनमें अग्रेंजी के 5, हिन्दी के 4 और सामाजिक विज्ञान विषय के 8 शिक्षकों को प्रारम्भिक से माध्यमिक शिक्षा विभाग में समायोजित किया गया है।

 

जिला शिक्षाधिकारी माध्यमिक शिक्षा टोंक मोहम्मद नसीम के अनुसार सूचियां आने का दौर जारी होने के कारण मंगलवार को प्रथम लेवल की काउंसलिंग नहीं करवाई गई है। बुधवार को सुबह 25 शिक्षकों कर काउंसलिग हुई।

 

इधर, राजस्थान प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला मंत्री अख्तर हुसैन ने बताया कि संघ के प्रतिनिधि मण्डल ने शिक्षकों की परिवेदनाओं के निस्तारण पर असन्तोष व्यक्त करते हुए अपना विरोध जताया है।

 

परिवादी शिक्षकों का आरोप है कि विगत दिनों हुई काउंसलिंग में इनको अन्य तहसीलों मे भेज दिया गया, जबकि उनके विषयों के नजदीकी विद्यालयों में पद रिक्त थे।

 

न्यायालय के आदेशों के बावजूद उनके हितों की अनदेखी की गई है। वहीं संयुक्त निदेशक प्रशिक्षण माध्यमिक शिक्षा बीकानेर ने 6 डी से सम्बंधित परिवेदना के निस्तारण के सम्बन्ध में मुख्य जिला शिक्षाधिकारी की अध्यक्षता में तीन सदस्यों की समिति बनाई है, जो शिक्षकों के 16 जून तक परिवेदना लेकर 23 जून तक उनका गुणावगुण के आधार पर निपटारा करेगी। इस समिति का सचिव सम्बंधित जिले के जिला शिक्षाधिकारी माध्यमिक(मुख्यालय) को बनाया गया है।

Updated On:
12 Jun 2019, 08:56:13 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।