डंपर की टक्कर से पिता-पुत्री की मौत पर परिजनों को सौंपा सहायता राशि का चेक

By jalaluddin khan

|

15 Feb 2020, 03:21 PM IST

Tonk, Tonk, Rajasthan, India

निवाई. शहर में बुधवार झिलाय चौराहे पर डंपर की टक्कर से पिता-पुत्री की मृत्यु के बाद मुख्यमंत्री सहायता कोष से परिजनों को एक एक लाख रुपए के चेक दिए गए। डंपर की टक्कर से रामजस पुत्र रामजीलाल बैरवा और उसकी डेढ़ वर्षीय पुत्री अर्पिता की मौके ही मौत हो गई थी।

और उसकी पत्नी आरती गंभीर घायल हो गई थी। मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक-एक लाख रुपए के चेक पटवारी कालूराम बैरवा, कस्बा पटवारी जितेंद्र बैरवा एवं सरपंच देवनारायण गुर्जर ने मृतक के परिजनों को सौंपे। विधायक प्रशांत बैरवा ने भी शुक्रवार की दोपहर गांव नला पहुंच कर मृतक के परिजनों को ढांढस बंधवाया।

कर्मचारियों ने निकाली रैली
टोंक. महंगाई भत्ता समेत अन्य मांगों को लेकर शुक्रवार को राजस्थान राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के कर्मचारियों ने रैली निकाली। उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम अतिरिक्त जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। महासंघ के जिलाध्यक्ष राजेशकुमार नामा, महामंत्री राजेन्द्र च्यवनगौड़ आदि ने बताया कि केन्द्र के अनुरूप राज्य कर्मचारियों को महंगाईभत्ते देने ओदश हुए थे, लेकिन 8 माह बाद भी राज्य सरकार की ओर से आदेश जारी नहीं किए जा रहे हैं।

इससे कर्मचारियों में नाराजगी है। उन्होंने जुलाई2019 के महंगाई भत्ते के आदेश को जारी कराने की मांग की है। इसके अलावा स्टेट पैरिटी के आधार पर कनिष्ठ सहायक की गे्रड पे-3600 करने, अधीनस्थ मंत्रालयिक कर्मचारियों को शासन सचिवालय के मंत्रालयिक संवर्गके समान वेतनमान व पदोन्नति तथा अन्य मांगों का निस्तारण करने की मांग की है।

इधर अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त एकीकृत की ओर से विभिन्न मांगों को लेकर 17 फरवरी को मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन देंगे। एकीकृत के जिलाध्यक्ष सत्यनारायण मीणा ने बताया कि 24 से 28 फरवरी तक जयपुर में धरना दिया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।