एक माह से धूल खा रही डिजीटल एक्स-रे यूनिट

By: Anil Kumar Rawat

Updated On:
24 Aug 2019, 12:16:38 PM IST

  • मरीजों को नहीं मिल रही सुविधा, प्लेट और नई मशीन न आने से रूका काम

टीकमगढ़. जिला अस्पताल में मरीजों की सुविधा के लिए लाई गई डिजीटल एक्स-रे यूनिट शुरू नहीं हो सकी हैं। पिछले एक माह से अधिक समय से यह यूनिट बंद पड़ी हुई हैं और लोगों को इसका लाभ नहीं मिल रहा हैं। विभाग का कहना हैं कि पुरानी मशीन यूनिट को सपोर्ट नहीं कर रही हैं। इसकी नई प्लेट एवं दूसरी मशीन आने पर जल्द ही काम शुरू होने की बात कह रहा हैं।


तमाम सुविधाओं से महरूम जिला अस्पताल में शासन से यदि कोई सुविधा मिल भी जाए तो उसका लाभ भी मरीजों को नहीं मिलता हैं। विदित हो कि शासन द्वारा जिला अस्पताल में मरीजों की सुविधा के लिए डिजीटल एक्स-रे मशीन की पूरी युनिट भेजी गई हैं। यह यूनिट एक्स-रे कक्ष में यूं ही पड़ी हुई हैं और इससे काम शुरू नहीं हुआ हैं। विदित हो कि इस मशीन के शुरू होने से यहां पर आने वाले मरीजों को खासी राहत होगी। लेकिन एक माह से इस मशीन ने काम शुरू नहीं किया हैं।


प्रायवेट में देने होते हैं ज्यादा दाम: विदित हो कि कई बार दुर्घटनाओं में घायल होकर आने वाले मरीजों को डॉक्टरों द्वारा डिजीटल एक्स-रे कराने की सलाह दी जाती हैं। वहीं कई गंभीर दुर्घटनाओं में भी डिजीटल एक्स-रे कराने की जरूरत पड़ती हैं। ऐसे में मरीजों को यह एक्स-रे बाहर जाकर कराना पड़ता हैं। इस एक्स-रे के लिए मरीजों को 300 से 500 रुपए चुकाने होते हैं। गरीब तबके के लोगों के लिए इतना रुपए देना कष्टप्रद हो जाता हैं। ऐसे में यदि यह मशीन चालू हो जाती हैं, तो मरीजों को राहत होगी।

 

टैक्नीशियन हुआ पदस्थ: जिला अस्पताल में शासन द्वारा भेजी गई इस यूनिट के बाद यहां पर कलेक्टर ने तत्काल ही एक टेक्नीशियन को भी भेज दिया हैं। यहां पर एक्स-रे टेक्नीशियन के रूप में डीएस मुडिया को पदस्थ किया जा चुका हैं। लेकिन यूनिट के काम न करने से इनकी पदस्थापना का भी अर्थ सार्थक नहीं हो रहा हैं।


पुरानी मशीन नहीं कर रही सपोर्ट: एक माह से रखी इन मशीनों के काम न करने के पीछे सिविल सर्जन डॉ अमित चौधरी का कहना हैं कि इस युनिट को पुरानी मशीन से लिंक किया जाना था, लेकिन यह मशीन इसे सपोर्ट नहीं कर रही हैं। ऐसे में दूसरी नई मशीन मंगाई गई हैं। उस मशीन के आने के बाद इसे चालू किया जाएगा। इसके लिए डिजीटल प्लेट भी मंगाई जा रही हैं।


बंद रहती थी कि सोनोग्राफी: विदित हो कि पूर्व में जिला अस्पताल में महिला मरीजों की सुविधा के लिए सोनोग्राफी मशीन भी लगाई गई थी। लेकिन यह मशीन भी कई दिनों तक बंद रहती थी और इसका कारण मशीन का खराब होना बताया जाता था। जबकि लोगों की माने तो प्रायवेट मशीन संचालकों की दलाली के कारण जिला अस्पताल की सोनोग्राफी मशीन को बंद रखा जाता था।


कहते हैं अधिकारी: पुरानी मशीन इस युनिट को सपोर्ट नहीं कर रहीं हैं। इसके लिए नई मशीन के लिए शासन को पत्र लिखा गया हैं। जल्द ही नई मशीन आने के बाद युनिट चालू कर दी जाएगी।- डॉ अमित चौधरी, सिविल सर्जन, जिला अस्पताल टीकमगढ़।

Updated On:
24 Aug 2019, 12:16:38 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।