तीन साल पहले की भविष्यवाणी लोगों ने उड़ाया मज़ाक फिर विंबलडन जीत भारत का नाम किया रोशन

By: Siddharth Rai

|

Published: 07 Jun 2018, 01:17 PM IST

टेनिस

नई दिल्ली। भारत में क्रिकेट सबसे ज्यादा चालता है ऐसे में अन्य खेल और उनके खिलाडियों का नाम काम ही होता है। लेकिन टेनिस की दुनिया का दो खिलाड़ी ने अपना ऐसा नाम बनाया है जो किसी क्रिकेटर से कम नहीं है। जी हां महेश भूपति और लिएंडर पेस ने भारतीय टेनिस में अपनी ऐसी चाप छोड़ी है जो सालों तक फैंस याद रखेंगे। आज महेश भूपति का 44वां जन्म दिन है। क्रिकेट के वर्ल्ड कप की तरह टेनिस में ग्रैंड स्लैप का खिताब बहुत बड़ा खिताब माना जाता है। महेश ने साल 1997 में जापानी स्टार रिका हिराकी के साथ मिलकर फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। ये उनके करियर की बहुत बड़ी उपलब्धि थी। भारत के लिए टेनिस ग्रैंड स्लैम जीतने वाले वे पहले खिलाड़ी बने थे।

भूपति का करियर
भूपति का जन्म 7 जून 1974 को तमिल नाडु की राजधानी चेन्नई में हुआ था। महेश का पूरा नाम महेश श्रीनिवास भूपति है। महेश ने 21 साल की उम्र में टेनिस खेलना शुरू किया था। भारत में भूपति और पेस की जोड़ी बेहद मशहूर थी। लिएंडर पेस के साथ मिलकर उन्होंने तीन डबल्स खिताब जीते हैं जिनमें 1999 का विबंलडन का खिताब भी शामिल है। साल 1999 भूपति के लिए स्वर्णिम वर्ष साबित हुआ क्योंकि इसमें उन्होंने अमेरिकी ओपन मिश्रित खिताब जीता और फिर लिएंडर पेस के साथ रोलां गैरां और विंबलडन समेत तीन युगल ट्राफी अपने नाम की। वह और पेस सभी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंटों के फाइनल में पहुंचने वाली पहली युगल जोड़ी बने थे। साल 1999 में ही दोनों को युगल की विश्व रैंकिंग में पहली भारतीय टीम बनने का गौरव हासिल हुआ। ओपन युग में 1952 के बाद यह पहली उपलब्धि थी। हालांकि बीच के सालों में महेश भूपति और लिएंडर पेस के बीच कुछ मतभेद हो गए जिसकी वजह से दोनों ने एक-दूसरे के साथ खेलना बंद कर दिया पर 2008 बीजिंग ओलंपिक्स के बाद से उन्होंने पुनः साथ-साथ खेलना शुरू कर दिया।

ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने की भविष्यवाणी पर उड़ा था मज़ाक
लिएंडर पेस मतभेदों के बाद उन्होंने बेलारूस के मैक्स मिरनी के साथ जोड़ी बनाकर 2002 का यूएस ओपन का खिताब जीता। मिक्स डबल्स में भी उन्होंने 8 ग्रैंड स्लेम खिताब अपने नाम किए हैं। इनमें 2009 ऑस्ट्रेलियन ओपन और 2012 फ्रेंच ओपन में उनकी जोड़ीदार सानिया मिर्जा थी। 2008 के ऑस्ट्रेलियन ओपन में यह जोड़ी रनरअप रही थी। लिएंडर ने 1996 में भूपति के साथ युगल वर्ग का ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने की भविष्यवाणी की थी, तब उसका अच्छा-खासा मजाक बनाया गया और उसे छोटा मुंह बड़ी बात कहा गया क्योंकि उस समय इनकी जोड़ी विश्व क्रम में 80वें क्रम पर थी। परन्तु दोनों ने हिम्मत नहीं हारी और सफलता के शिखर पर चढ़ते चले गए। इसके पूर्व किसी भारतीय जोड़ी का एक या दो चक्र जीतना ही बहुत बड़ी बात समझी जाती थी। परन्तु लिएंडर और महेश भूपति की जोड़ी ने आठ ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंटों में से सात के सेमीफाइनल में प्रवेश किया, फिर उसके बाद पेस की कही बात सच साबित हुई जब इस युगल जोड़ी ने 1999 के फ्रेंच व विंबलडन खिताब जीते।

लारा दत्ता से की दूसरी शादी
महेश भूपति को उनके शानदार खेल के लिए 1996 में भारत सरकार द्वारा उन्हें अर्जुन पुरस्कार से नवाज़ा गया। 26 मार्च, 2001 को महेश भूपति को लिएंडर पेस के साथ पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया गया था। पद्मश्री नागरिक पुरस्कारों में चौथा सर्वोच्‍च पुरस्कार है। साल 2002 में भूपति ने मॉडल श्वेता जयशंकर से शादी रचाई थी। दोनों सात साल तक साथ रहे फिर उनका तलाक हो गया। महेश ने फिर 2012 में पूर्व मिस यूनिवर्स और बॉलीवुड अभिनेत्री लारा दत्ता से शादी कर ली।

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।