आतंक मचाए हुए था, पकड़ा गया

By: Sunil Mishra

Updated On:
26 Sep 2018, 10:50:14 PM IST

  • जलपोर गांव में तेन्दुआ पिंजरे में कैद


वलसाड. वेजलपोर गांव में पिछले कुछ दिनों से लोगों के लिए भय का कारण बना तेन्दुआ पिंजरे में कैद हो गया है। गांव के अहीर फलिया के मुकेश देसाई की वाड़ी में कुछ दिनों से तेन्दुआ देखे जाने से लोगों में भय था। इसकी जानकारी लोगों ने वन विभाग को दी। इसके बाद वन विभाग ने दो दिन पहले आम के बगीचे में पिंजरा रखवाया था। मंगलवार को सुबह पिंजरे में तेन्दुआ फंस गया। इसकी सूचना ग्रामीणों से मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और तेन्दुए को कब्जे में लेकर जंगल में छोडऩे की प्रक्रिया में जुट गई। वन अधिकारी महेश पटेल ने बताया कि डेढ़ वर्षीय तेन्दुआ किसी इंसान को भी शिकार बना सकता है, लेकिन वह समय रहते पिंजरे में कैद हो गया। गांव के लोगों के अनुसार चार दिन पहले रात में वाड़ी में तेन्दुए के गरजने की आवाज आई थी और इसके बाद मुर्गियों तथा बकरियों का शिकार होने पर वन विभाग को सूचना दी गई थी।

भारी वाहनों की आवाजाही पर 30 नवंबर तक प्रतिबंध
दमण. दमण के दाभेल चेकपोस्ट से कलारिया मार्ग पर भारी वाहनों की आवाजाही पर 30 नवंबर तक प्रतिबंध लगाया गया है। समाहर्ता संदीप कुमार सिंह के आदेश के मुताबिक सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक एवं दोपहर 4 बजे से रात 9 बजे तक भारी और मध्य वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध है। समाहर्ता ने बताया कि पाइपलाइन बिछाने के कार्य के मद्देनजर यह प्रतिबंध लगाया गया है।

दमण सचिवालय एवं समाहर्तालय के आसपास धारा 144 लागू
दमण. दमण के सचिवालय एवं समाहर्तालय के निकट धारा 144 फिर से लागू की गई है। सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट चार्मी पारेख के आदेशानुसार मोटी दमण स्थित सचिवालय एवं समाहर्तालय के 100 मीटर में यह आदेश लागू रहेगा। यह आदेश 05 अक्टूबर से 03 दिसंबर तक अमल में रहेगा। इसके मुताबिक कोई भी धरना, रैली, लाउड स्पीकर के इस्तेमाल पर प्रतिबंध रहेगा।

सार्वजनिक स्थलों पर शराब के सेवन पर रोक
दमण के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट संदीप कुमार सिंह द्वारा सार्वजनिक स्थलों पर शराब के सेवन पर प्रतिबंध लगाया गया है। आदेश के मुताबिक कोई भी सार्वजनिक स्थल जैसे कि समुद्री तटों, प्लाजा, जेटी, पार्किंग आदि पर शराब का सेवन नहीं कर सकते हैं। सीपीसी 1973 की धारा 144 के तहत यह आदेश लागू किया गया है। यह आदेश 12 अक्टूबर से 10 दिसम्बर तक अमल में रहेगा और इसके उल्लंघन करने पर आइपीसी 1860 की धारा 188 के तहत दंड दिया जाएगा। डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट संदीप कुमार ने आदेश में बताया कि शराब का सेवन करने से हादसों में इजाफा हुआ है।

Updated On:
26 Sep 2018, 10:50:14 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।