पत्नी और बेटा से इस बात को लेकर कॉलरीकर्मी का विवाद, सुबह पेड़ पर लटकी मिली लाश

By: Ram Prawesh Wishwakarma

Updated On: Apr, 19 2019 08:32 PM IST

  • कर्ज में डूबा हुआ था कॉलरीकर्मी, देर रात घर से निकला और घर के पीछे स्थित इमली पेड़ पर लगा ली फांसी

बिश्रामपुर. कर्ज में डूबे कॉलरी कर्मचारी ने गुरुवार की रात घर के पीछे स्थित इमली के पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। खाते में वेतन आते ही उसने कर्जदारों को कुछ राशि चुकता कर दी थी।

जब वह घर पहुंचा तो पत्नी व बेटा ने वेतन के संबंध में पूछताछ की थी। इसी बात को लेकर उसका विवाद हो गया था। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


सूरजपुर जिले के नगर पंचायत बिश्रामपुर के वार्ड क्रमांक-3 के बिलासापुरिया कॉलोनी निवासी एवं एसईसीएल बिश्रामपुर के रेहर खदान में कार्यरत सुखदेव राम तिर्की पिता झांसी राम उरांव गुरुवार को कुम्दा कॉलोनी स्थित बैंक से 4900 रुपए निकालकर घर पहुंचा।

परिजन द्वारा रुपए की मांग करने पर 4900 रुपए जेब से निकाल कर दिया और पुन: शराब के लिए पैसा मांगने लगा तब पत्नी मानमति ने पूछा कि वेतन की राशि कहां गई। इस पर सुखदेव ने कहा कि यह बताना उचित नहीं मानता, कर्ज लिया था उन्हें दे दिया। इस बात को लेकर उसका पत्नी, पति व पुत्र में विवाद हो गया।

फिर देर रात सुखदेव घर से बाहर निकला व घर के पीछे इमली के पेड़ पर फांसी लगाकर जान दे दी। घटना की सूचना पर पुलिस सुबह घटनास्थल पहुंची और शव को उतरवाकर पीएम के लिए भेजा।

परिजन ने पुलिस को बताया कि मृतक कर्ज में डूबा था और पूर्व में आत्महत्या करने की दो बार कोशिश की थी। फिलहाल पुलिस मर्ग कायम पर कर विवचेना कर रही है।

Published On:
Apr, 19 2019 08:32 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।