सीएमएचओ कुर्सी प्रकरण...हाईकोर्ट अब 19 को करेगा सुनवाई

By: Krishan Ram

Updated On:
13 Aug 2019, 07:56:53 PM IST

 

सीएमएचओ कुर्सी प्रकरण...हाईकोर्ट अब 19 को करेगा सुनवाई

-निर्णय को लेकर दिनभर होता रहा इंतजार

श्रीगंगानगर.चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में पिछले एक माह से सीएमएचओ की कुर्सी (CMHO chair case) को लेकर रस्साकशी चल रही है। इसके लिए सीएमएचओ डॉ.गिरधारी लाल मेहरड़ा और डॉ.नरेश बंसल एक-दूसरे को पछाडऩे की कोशिश में लगे हुए हैं। सीएमएचओ कुर्सी प्रकरण में मंगलवार को जोधपुर हाईकोर्ट (High court ) में सुनवाई होनी थी। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग और सीएमएचओ डॉ.मेहरड़ा के वकील ने हाईकोर्ट में जवाब पेश कर दिया। इसके बाद हाईकोर्ट ने फिर से सुनवाई के लिए 19 अगस्त की तारीख तय कर दी है। हालांकि मंगलवार को सब हाईकोर्ट के निर्णय (decision) का इंतजार कर रहे थे। इधर,डॉ.बंसल 22 जुलाई से मेडिकल अवकाश पर चल रहे हैं। उल्लेखनीय है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के आदेश पर 13 जुलाई को डॉ.गिरधारी लाल मेहरड़ा ने सीएमएचओ (rajasthan patrika news) के पद पर कार्यभार संभाला था। तब तत्कालीन सीएमएचओ डॉ.नरेश बंसल चार्ज देने के लिए नहीं आए और न ही उन्होंने जिला चिकित्सालय में उप-नियंत्रक पद (sriganganagar hindi news) पर ज्वाइन किया। उसी दिन से सीएमएचओ डॉ.मेहरड़ा और पूर्व सीएमएचओ डॉ.बंसल में सीएमएचओ की कुर्सी को लेकर रस्साकशी चल रही है।

 

---------------
अब फिर मिली तारीख--सीएमएचओ पद से हटाए जाने के बाद डॉ.नरेश बंसल को 20 जुलाई को हाईकोर्ट से स्टे मिल गया और उन्होंने उसी दिन शाम को अवकाश के बावजूद सीएमएचओ पद पर ज्वाइन कर लिया। 21 जुलाई को रविवार था और 22 जुलाई को जब ऑफिस खुला तो डॉ.मेहरड़ा ने एक परिपत्र का हवाला देते हुए डॉ.नरेश बंसल को निदेशालय स्तर पर उपस्थिति देने के निर्देश दिए। इस पर डॉ.बंसल निदेशालय जाने के बजाय फिर हाईकोर्ट चले गए। हाईकोर्ट से उन्हें पहले पांच अगस्त और बाद में 13 अगस्त की तारीख पेशी के बाद अब फिर से 19 अगस्त की तारीख मिली है।

तत्कालीन सीएमएचओ की बढ़ सकती है मुश्किलें--पूर्व सीएमएचओ डॉ.बंसल के खिलाफ गद्दा खरीद प्रकरण में कथित गड़बड़ी की जांच उच्च स्तर पर चल रही है। इसमें 12 लाख रुपए का मामला है। एक तरफ हाईकोर्ट में तारीख पर तारीख मिल रही है और दूसरी तरफ डॉ.बंसल के खिलाफ गद्दा खरीद प्रकरण में कभी भी कार्रवाई हो सकती है।

Updated On:
13 Aug 2019, 07:56:53 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।