हम नेपाल के हर व्यक्ति के आंसू पोछेंगे: PM मोदी ने की "मन की बात"

  • PM नरेन्द्र मोदी ने "मन की बात" में नेपाल की भूकंप त्रासदी पर दुख जताते हुए कहा कि एस समय हिंदुस्तान नेपाल की जनता के साथ है
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को "मन की बात" में नेपाल की भूकंप त्रासदी पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि दुख के समय में हिंदुस्तान नेपाल की जनता के साथ है। यहां के 125 करोड़ भारतीयों के लिए नेपाल अपना है। हम नेपाल के हर व्यक्ति का आंसू पोछेंगे। उन्होंने भारतीय सेना के योगदान की भी सराहना की और संक ल्प जताया कि हम नेपाल की हरसंभव मदद करेंगे।

मोदी ने कहा कि भारत दुनिया के कल्याण के लिए सोचता है। उन्होंने यमन ऑपरेशन को याद करते हुए कहा कि उस समय भी सेना ने न केवल भारतीय वरन विश्व के कई देशों के नागरिकों की जान बचाई जिसके लिए दुनिया ने हमारे यमन आपरेशन को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मैंने गुजरात के कच्छ में आए भूकंप को नजदीकी से देखा है इसीलिए इसकी भयावहता से ही मैं विचलित हो जाता हूं।

इस दौरान उन्होंने मैला ढोने की प्रथा को भी खत्म करने का आव्हान किया। उन्होंने वर्ल्ड कप में भारत की हार के लिए भी लोगों से सदाशयता बरतने का आव्हान किया और कहा कि हार और जीत खेल का ही हिस्सा है। हमें हमारे खिलाडियों का मनोबल नहीं तोड़ना चाहिए वरन उन्हें सराहना और सांत्वना देनी चाहिए। अंत में पीएम मोदी ने कहा कि आज मन की बात करने का मन नहीं हो रहा है, दिल दुख में डुबा हुआ है और मन पर बोझ है। हम नेपाल के हर व्यक्ति के आंसू पोछेंगे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।