जल शक्ति अभियान की योजना पर शीघ्र हो अमल

By: Anil Kumar

Updated On:
10 Jul 2019, 08:51:53 PM IST

 
  • जल बचाने, पौधारोपण, जलस्तर बढ़ाने की तैयारियों पर हुई चर्चा

अजमेर. केंद्र सरकार की ओर से जल शक्ति अभियान के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी चन्द्रप्रकाश गोयल एवं उनकी टीम ने बुधवार को अजमेर में अभियान की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले को जल शक्ति से समृद्ध करने के लिए जिला स्तरीय योजना तुरन्त तैयार कर उस पर अमल शुरू किया जाए। योजना का उद्देश्य आगामी वर्षों में जिले को जल के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाना है।

केंद्र में विज्ञान एवं तकनीकी विभाग के संयुक्त निदेशक एवं जल शक्ति अभियान के नोडल अधिकारी गोयल ने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के सभागार में जल शक्ति अभियान की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि अभियान के प्रथम चरण में प्रत्येक गांव, ब्लॉक एवं शहर तक जल संचयन के सभी उपायों को क्रियान्वित करना है। प्रथम चरण में अधिक से अधिक कामों को इस तरह से क्रियान्वित किया जाए कि वे मिसाल बन जाए। वर्तमान में वर्षा से प्राप्त अधिकांश जल व्यर्थ बह जाता है। इसका भूमिगत जल को रिचार्ज करने के लिए उपयोग किया जाए। सभी सरकारी भवनों के साथ ही निजी भवनों में भी वाटर हार्वेस्टिंग अनिवार्य की जाए।

जिला कलक्टर विश्व मोहन शर्मा ने बताया कि अभियान का उद्देश्य ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में भूजल स्तर में बढ़ोतरी, तालाब, कुंए, बोरवैल एवं अन्य जलस्त्रोतों में पानी की आवक, वन क्षेत्र में बढ़ोतरी तथा कृषकों की खुशहाली है। इसके सफल क्रियान्वयन के लिए जिला स्तरीय योजना बनाई जा रही है। इसमें विधायकों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, विषय विशेषज्ञों तथा आमजन के सुझाव शामिल किए जा रहे हैं।

Updated On:
10 Jul 2019, 08:51:53 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।