खिडक़ी, सपने और औरतें

By: Uma Mishra

Updated On: Apr, 25 2019 07:16 PM IST

 
  • www.patrika.com

 

 

आज भी हमारे देश में कई इलाके ऐसे हैं, जहां ताजी हवा की चाह लिए औरतें खिडक़ी पर बड़ी उम्मीद से जाती हैं, पर आसमान और उनके बीच खिडक़ी की ये सलाखें इतनी मजबूत होती हैं कि उड़ान का सपना भी नहीं देख पाती आंखें। पढ़े-लिखे तबके को यह लग सकता है कि ये बातें तो पुरानी हुईं, पर अफसोस इसी बात का है कि ये हमारे आस-पास की दुनिया ही है, संकरी गलियों में भीतर तक जाएंगे, तो यही दुनिया नजर आएगी। इसी दुनिया के किस्से आपको मिलेंगे युवा लेखिका तसनीम खान के ताजा कहानी संग्रह ‘दास्तान-ए-हज़रत’ में।
इस कहानी संग्रह पर जानी-मानी लेखिका और समीक्षक डॉ. लक्ष्मी शर्मा का कहना है कि
तसनीम हमारे समय की एक सम्भावनाशील कथाकार हैं, जो किसी भी फैंसी विचार और प्रायोजित विमर्श से अलग रहते हुए उस प्रतिबद्धता से अपना कार्य कर रही हैं, जिसे मौन की मुखरता कह सकते हैं। आम जीवन के, सामान्य से दिखाई देते, अपने हालात में छीजते, खिरते, गिरते, उठते, जीते, मरते पात्रों को बरतते हुए लिखी इन कथाओं में सही अर्थ में जिंदगी धडक़ती है। ये कहानियां न अर्श की ऊँचाइयों की कहानियां हैं, न फर्श की निचाइयों की। ये दरमियां में जीते लोगों की कथा है। अपने परिवेश की यथास्थितियों में, समाज के साथ अपने यथा संबंध में, अपनी विसंगतियों के बोध में संगुम्फित लोगों की कथा।
कुल नौ कहानियों वाले इस संग्रह की पहली कहानी है, ‘दुनियावी खुदा’, ये उस स्त्री की कहानी है, जो एक के बाद दूसरे खुदा के हाथ में जाती रहती है। एक अन्य कहानी ‘मेरे हिस्से की चांदनी’ भी स्त्री की व्यथा कथा है। पुरुष को पत्नी की रूप में एक ऐसी स्त्री चाहिए, जो घर के प्रति समर्पित हो जाए और जब वह ऐसी हो जाती है, अपनी जिम्मेदारियों उलझ जाती है, तो उसे फिर एक नई औरत चाहिए।
स्त्रियों की ख्वाहिशें कभी सलाखों के पीछे दम तोड़ देती हैं, तो कभी विद्रोह भी करती है। ‘रुख ए गुलजार’ ऐसी ही एक कहानी है, बेवा को एक कोना पकड़ा देने जैसी कुप्रथा को करारा जवाब देती हुई। तसनीम की कहानियों में कई रंग हैं, संयुक्त परिवार के खुशनुमा रंग भी और खामोशियों के रंग भी। इन रंगों पर नजर डालना जरूरी-सा लगता है।

Published On:
Apr, 25 2019 07:16 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।