पहले पुलिस चेती नहीं, धरना दिया तो याद आई कार्रवाई

By: Vinod Singh Chouhan

Updated On: Jun, 12 2019 06:45 PM IST

  • पुलिस के जिम्मेदार धरने-प्रदर्शन के बिना नहीं जाग रहे है ग्रामीणों के साथ विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने कलक्ट्रेट के सामने धरना शुरू कर दिया। धरने शुरू होने के कुछ घंटों बाद ही पुलिस ने बालिका को भिवाड़ी से बरामद कर लिया

सीकर.

पुलिस के जिम्मेदार धरने-प्रदर्शन के बिना नहीं जाग रहे है। कई दिनों पहले नेछवा थाना इलाके के पाटोदा गांव से लापता हुई नाबालिग बालिका के बरामदगी को लेकर परिजन लगाते रहे। लेकिन पुलिस ने पीडि़त परिवार की पीड़ा को नहीं समझा। ग्रामीणों के साथ विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने मंगलवार को कलक्ट्रेट के सामने धरना शुरू कर दिया। धरने शुरू होने के कुछ घंटों बाद ही पुलिस ने बालिका को भिवाड़ी से बरामद कर लिया है। पुलिस ने बताया कि देर रात धरना भी समाप्त हो गया है। बुधवार सुबह बालिका को न्यायालय में पेश किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई शुरू होगी। इससे पहले मंगलवार को बालिका की बरामदगी की मांग को लेकर सर्व समाज के बैनर तले कलक्ट्रेट के सामने बेमियादी धरना शुरू हो गया। पहले दिन धरने पर मेघवाल परिषद सहित कई संगठनों के कार्यकर्ता बैठे। मेघवाल परिषद के जिलाध्यक्ष रामचंद्र खोरी व महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष सीता देवी ने बताया कि इस मामले में तीन जून को जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया गया था। इस पर जिला कलक्टर ने पांच दिन का समय मांगा था। इसके बाद भी बालिका को बरामद नहीं किया गया। बालिका की बरामदगी नहीं होने तक आंदोलन जारी रहेगा।

Published On:
Jun, 12 2019 06:08 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।