दो काउंटरों के भरोसे 1500 मरीज

By: Vinod Singh Chouhan

Updated On: 11 Jul 2019, 06:47:05 PM IST

  • जिले के 70 फार्मासिस्ट रहे सामूहिक अवकाश पर
    फार्मासिस्ट की जगह कम्प्यूटर ऑपरेटर ने बांटी दवाएं
    मरीजों की लगी रही लाइन, दवा वितरण हुआ प्रभावित

सीकर. चिकित्सा संस्थानों में कार्यरत सभी सेवारत फार्मासिस्ट बुधवार को सामूहिक अवकाश पर रहे। जिले के 70 से ज्यादा फार्मासिस्ट के एक साथ अवकाश पर जाने से चिकित्सा संस्थानों में दवा वितरण कार्य बेपटरी हो गया। हाल यह है कि रोजाना 1500 मरीजों के ओपीडी वाले कल्याण अस्पताल में सुबह के समय केवल दो ही दवा काउंटर खुले रहे। इस कारण दवा काउंटरों के बाहर मरीजों की लाइने लगी रही। मरीजों को दवाओं के लिए भटकना पड़ा। 24 घंटे खुला रहने वाला दवा काउंटर भी शाम के समय खोला गया। ऐसे में मजबूरी में निजी दवा की दुकानों पर जाना पड़ा। हालांकि अस्पताल प्रशासन ने दवा काउंटर पर कंपाउंडर और फार्मेसी कर चुके एक कम्प्यूटर ऑपरेटर को दवा वितरण की जिम्मेदारी सौंपी थी। कमोबेश यही स्थिति एमसीएच विंग और शहरी स्वास्थ्य केन्द्रों की रही।
कैडर और ग्रेड पे व भत्तों की मांग
कैडर, ग्रेड पे और भत्तों की लंबित मांग को लेकर राजस्थान फार्मासिस्ट कर्मचारी संघ एकीकृत के बैनर तले फार्मासिस्ट ने जयपुर में शहीद स्मारक से विधानसभा तक रैली निकाली। रैली के बाद प्रतिनिधिमंडल ने चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा से वार्ता की। इसके बाद चिकित्सा मंत्री ने मुख्य सचिव को फार्मासिस्ट के बहुस्तरीय कैडर के गठन के लिए निर्देश दिए। इस दौरान सीकर जिलाध्यक्ष रामेश्वर लाल, आनंद चौधरी , महेंद्र सिंह, प्रभुदयाल, राजीव, सुमित्रा, रुकसाना, कोमल सैनी, सुरेश राव ,रामावतार व जिले के फार्मासिस्ट मौजूद रहे।
एसएफआई ने दिया $कॉलेजों में धरना
सीकर. छात्रों की विभिन्न मांगों व समस्याओं को लेकर एसएफआई ने बुधवार को राजकीय कला व विज्ञान महाविद्यालय के सामने धरने दिए। इस दौरान प्राचार्य को ज्ञापन दिए गए। जिला सचिव विजेंद्र ढाका ने बताया कि इस दौरान शेखावाटी विद्यालय का नाम शहीद भगतसिंह के नाम पर करने, संगठक कॉलेज बनाने, व्याख्याताओं के रिक्त पदों को भरने, नियमित कक्षाएं लगाने, खेल मैदान व पुस्तकालय की समुचित व्यवस्था करने सहित विभिन्न मांगों का उच्च शिक्षा मंत्री को ज्ञापन भेजा गया। इस दौरान जिलाध्यक्ष महेश पालीवाल, ऑटस कॉलेज छात्रसंघ उपाध्यक्ष पुनीत दाधीच, महासचिव नरेंद्र कुमावत, अंकित महला सहित बड़ी संख्या में छात्र मौजूद थे।

Updated On:
11 Jul 2019, 06:14:52 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।