एनएसयूआई ने नवागत कलेक्टर को बताई कॉलेजों की समस्याएं

By: Manoj Kumar Pandey

Updated On: 24 Aug 2019, 09:19:33 PM IST

  • समस्याओं को लेकर विंदुवार सौंपा ज्ञापन, निराकरण के लिए दिया अल्टीमेटम

सीधी। एनएसयूआई जिला इकाई सीधी के प्रतिनिध मंडल द्वारा शनिवार को कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी से मुलाकात कर महाविद्यालय में चल रही अनियमितताओं एवं अन्य मांगो के संबंध में अवगत कराया गया।
एनएसयूआई जिलाध्यक्ष दीपक मिश्रा ने बताया कि चिन्हित लोगों द्वारा शिक्षा को व्यापार का जरिया बनाया जा रहा है। संजय गांधी महाविद्यालय एवं कन्या महाविद्यालय सहित जिले के अन्य महाविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया में भारी अनियमितताएं बरती जा रही हैं। छात्र एवं छात्राएं महाविद्यालय परिसर में सुबह से ही आकर प्रवेश प्रक्रिया के लिए शाम तक इंतजार करते रहते हैं। इसी तरह की कुछ अन्य समस्याएं हैं जो महाविद्यालय में निरंतर चली आ रही हैं, जिसके कारण छात्र-छात्राओं का भविष्य अंधकार की ओर अग्रसर हो रहा है। निरंतर महाविद्यालयों में छात्र एवं छात्राओं को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मामले को गंभीरता से लेते हुए नवागत कलेक्टर चौधरी द्वारा विश्वास दिलाया गया कि जल्द ही समस्या को समाप्त किया जाएगा, किसी भी विद्यार्थी के साथ अन्याय नहीं होगा। दीपक मिश्रा ने बताया कि एनएसयूआई ने विगत समय में छात्र-छात्राओं की समस्याओं को प्राथमिकता के साथ हमेशा उठाया है और त्वरित न्याय दिलवाने में हर संभव प्रयास भी किए हैं। जिसके परिणाम स्वारूप तानाशाही पूर्ण रवैये पर अंकुश लग सका है। कलेक्टर चौधरी से शनिवार को मुलाकात के दौरान एनएसयूआई ने छात्रों की समस्या से अवगत कराते हुए त्वरित उचित न्याय की मांग रखी। जिसमें बताया कि महाविद्यालयों में प्रवेश से वंचित हो रहे छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिलाया जाय। महाविद्यालयों में विशेष परीक्षा का आयोजन जल्द से जल्द कराएं जिससे छात्र-छात्राएं अन्य पाठ्यक्रमों में प्रवेश पा सकें। महाविद्यालयों में सीसी परीक्षा एवं प्रेक्टिकल परीक्षा के परिणामों में जिनको उपस्थित होने के बावजूद भी अनुपस्थित किया गया है उसे भी तत्काल सुधारा जाए। जिले के समस्त महाविद्यालयों में छात्र-छात्राओं की सुरक्षा को लेकर उचित व्यवस्था की जाए, एनएसयूआई ने जिला प्रशासन को चेताते हुए कहा कि उक्त बिंदुओं की मांग को जल्द से जल्द पूरा किया जाए, अन्यथा भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन द्वारा छात्रों के हितों को लेकर उग्र प्रदर्शन करेगा, जिसकी संपूर्ण जबावदेही जिला प्रशासन की होगी। ज्ञापन सौपनें में मुख्य रूप से विपुल गौतम, प्रवीण तिवारी, शौरभ सिंह, हर्ष सिंह, प्रतीक त्रिपाठी, अजीत सिंह, अंकित तिवारी, कान्हा तिवारी, अनुराग मिश्रा, अमन नामदेव, विपुल पांडेय सहित संगठन के अन्य सदस्य मौजूद रहे।

Updated On:
24 Aug 2019, 09:19:32 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।