मप्र के सड़क मार्ग में सबसे चौड़ी सुरंग का शुरू हुआ निर्माण, जानिए कहां बन रही सुरंग

By: Manoj Kumar Pandey

Updated On:
24 Aug 2019, 01:21:00 PM IST

  • रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-३९ मे मोहनिया घाटी में शुरू हुआ सुरंग निर्माण, 6 लेन की बनाई जा रही सुरंग, दिलीप विल्डकान को मिला टेंडर, सुरंग निर्माण के बाद घट जाएगी रीवा से सीधी की दूर

सीधी। रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-39 में मोहनिया घाटी में 2.28 किमी लंबी सिक्स लेन सुरंग निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। प्रदेश के सड़क मार्ग में यह सबसे चौड़ी सुरंग मानी जा रही है। रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग में इस सुरंग के बनने से रीवा से सीधी की दूरी करीब साढ़े सात किमी कम हो जाएगी। बताया गया कि इस टनल के निर्माण से किसी तरह का पर्यावरणीय नुकसान भी नहीं होगा।
बताते चलें कि रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-39 में सर्रा चुरहट से मोहनिया घाटी तक करीब 15.35 किमी बाईपास सड़क का निर्माण एनएएचआई के तहत किया जा रहा है। इसमें करीब 13.07 किमी कांक्रीट सड़क निर्माण व 2.28 किमी लंबी मोहनिया घाटी में सुरंग का निर्माण शामिल है।
एक हजार करोड़ की लागत से बन रही सुरंग-
भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एनएचएआई से प्राप्त सूचना के आधार पर इस 15.35 किलोमीटर लंबी सड़क व सुरंग का निर्माण 1004 करोड़ की लागत से किया जा रहा है। निर्माण की जिम्मेदारी दिलीप विल्डकॉन कंपनी को सौंपी गई है। कंपनी द्वारा 15 दिसंबर 2018 से निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। यह निर्माण कार्य चार वर्ष में यानी माह दिसंबर 2022 तक पूर्ण करना है।
प्रदेश में सड़क मार्ग की पहली इतनी चौड़ी सुरंग-
विभागीय सूत्रों की माने तो प्रदेश में सड़क मार्ग की यह पहली सिक्स लेन सुरंग होगी जो करीब 2.28 किमी लंबी है। इसके माध्यम से रीवा से रांची तक के राष्ट्रीय राजमार्ग को प्रत्यक्षत: फायदा होगा। ये टनल बाणसागर की दो नहरों को भी क्रॉस कर रही है। यह टनल कई अवस्थापनाओं को भी पार कर रही है। टनल ललितपुर-सिंगरौली के लिए निकलने वाली रेल लाइन के ऊपर से तथा गोविंदगढ़ से चुरहट की ओर जाने वाली सड़क के नीचे से गुजरेगी। इतना ही नहीं बाणसागर द्वारा बनाई गई यूपी और एमपी की नहर में कोई व्यवधान नहीं पहुंचेगा। बताया गया है कि उत्तरप्रदेश को जाने वाली नहर के नीचे से एवं मध्यप्रदेश के लिए बनाई गई नहर के ऊपर से यह सुरंग चुरहट शहर को पार करेगी।
हाइवे से अलग हो जाएगा चुरहट मोहनिया मार्ग-
एनएचएआई द्वारा मिली जानकारी में बताया गया है कि अभी जो सड़क मोहनिया से चुरहट तक जा रही है, उसका हाइवे से कोई मतलब नहीं रह जाएगा। हालांकि वह सुरंग बनने तक चालू रहेगी परंतु टनल बन जाने के बाद वाहनों का आवागमन चुरहट से सुरंग के अंदर से शुरू होगा।
नहीं होगा पर्यावरणीय नुकसान-
मोहनिया से सर्रा चुरहट तक बनाई जाने वाली 15.35 किलोमीटर की सड़क व सुरंग से पर्यावरण को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। बताया गया है कि जमीन के नीचे से बनने वाली इस सुरंग में कोई पेंड़-पौधे नहीं काटे जाएंगे, जिससे पर्यावरण पर भी कोई असर नहीं पड़ेगा।
शुरू हो गया है निर्माण कार्य-
रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-39 में मोहनिया घाटी में 2.28 किमी की सुरंग का निर्माण शुरू हो गया है। इसके साथ ही 13.07 किमी कांक्रीट सड़क भी मोहनिया से सर्रा चुरहट तक बनाई जा रही है। यह पूरा प्रोजेक्ट 15.35 किमी का है, जो 1004 करोड़ रूपए की लागत से निर्माण किया जा रहा है। इस निर्माण कार्य की जिम्मेदारी दिलीप विल्डकान को सौंपी गई है, कंपनी को दिसंबर 2022 में कार्य पूर्ण करना है।
सुमेश बांझल, डायरेक्टर एनएचएआई कटनी

Updated On:
24 Aug 2019, 01:21:00 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।