अतिक्रमण को हटाने के लिए तहसीलदार ने लिखी चिठ्ठी, 19 तारीख को अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचेगा अमला

शहडोल। कलेक्टर और कमिश्नरी के बीच में स्थित खसरा नंबर 1816, 1817 तथा 1796 बटे 2 के शासकीय तालाब हो जाने के बाद वहां पर किए गए रास्ते पर अतिक्रमण को हटाने के लिए तहसीलदार सुहागपुर ने नगर पालिका को पत्र लिखकर 19 तारीख को हटाने के लिए दलबल सहित तैयार रहने को कहा है। ज्ञातव्य है जय स्तंभ चौक स्थित पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय के पीछे सरकारी तालाब पर धोखाधड़ी से से मुंशा कुमार द्वारा अभिलेखों में अपना नाम दर्ज करा कर कब्जा करने के मामले में अंतत: न्यायालय द्वारा उक्त दोनों तालाबों को शासकीय दर्ज करने का निर्देश दिया था। इसके बावजूद भी अतिक्रमणकारी मुंशा कुम्हार द्वारा वहां रह रहे आम निवासियों के रास्ते को जबरदस्ती बंद कर दिया गया था। जिस पर प्रभावित नागरिकों द्वारा शासकीय स्तर पर मार्ग खुलवाने की गुहार की गई थी। अंतत: तहसीलदार नजूल सुहागपुर द्वारा अपने पत्र क्रमांक 711 दिनांक 13 दिसंबर को मुख्य नगरपालिका अधिकारी व संबंधित आरआई को पत्र लिखकर मौका स्थल पर 19 दिसंबर को अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचने को कहा है। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा भू माफियाओं के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान पर शहडोल में भी अवैध अतिक्रमण से निजात दिलाने के लिए प्रशासन स्तर पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है। हालाकि शहडोल कलेक्टर द्वारा पूर्व में ही 3 दिन के अंदर तत्काल अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए गए थे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।