सोन नदी के बकही और खमरौध घाट से हो रहा रेत का अवैध उत्खनन, खनिज विभाग व पुलिस बनी मूकदर्शक

By: raghuvansh prasad mishra

Published On:
Sep, 12 2018 08:41 PM IST

  • निर्माण कार्यो में खप रहा

सोन नदी के बकही और खमरौध घाट से हो रहा रेत का अवैध उत्खनन, खनिज विभाग व पुलिस बनी मूकदर्शक

शहडोल/ बरगवां . एक ओर प्रदेश सरकार दावा कर रही है कि प्रदेश में कहीं भी रेत का अवैध उत्खनन नहीं हो रहा है। जिसके लिए खनिज विभाग पूरी तरह मुस्तैद है। वहीं दूसरी ओर जिले में सोन नदी के ग्राम बकही अंतर्गत खमरौध घाट से रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। एनजीटी द्वारा जुलाई माह से रेत के खनन पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाने के बाद भी सोन नदी के उत्खनन बंद नहीं हो रहा है। बताया जाता है कि बटुरा व बकही में आधा दर्जन रेत माफिया द्वारा प्रतिदिन रेत का अवैध उत्खनन कराया जा रहा है। जिसमे प्रतिदिन 10 से 20 टैक्टर टालियों से रेत का परिवहन किया जा रहा है।
चोरी की रेत का उपयोग पंचायत के कार्यों में
रेत का अवैध उत्खनन कर आसपास के ग्राम पंचायतों में चल रहे सीसी सड़क निर्माण कार्यों में प्रयोग किया जा रहा है। भले ही बकही में रेत का स्टाक रेत ठेकेदार द्वारा कराया गया है ।लेकिन वहां की कीमतों से चोरी की रेत सस्ते दामों में मिल जाती है जिसके कारण पंचायत प्रतिनिधि भी चोरी की रेत से कार्य करा रहे हैं । लेकिन इस ओर कोई भी अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्राम पंचायत बकही सहित ग्राम पंचायत देवरी व देवहरा में पंचायत में सीसी रोड़ बन रही है। जहां पर चोरी की रेत खप रहीं है।
ठेके के निर्माण में भी हो रहा उपयोग
ग्राम पंचायत बकहो अंतर्गत आंगनबाडी केन्द्र के समीप लगभग एक करोड़ की लागत से छात्रावास समेत अन्य ठेके के निर्माण कराए जा रहे है। जहां पर अबैध रूप से उत्खनित रेत का उपयोग किया जा रहा है। जिसका ग्रामीणों द्वारा विरोध की गया है। लेकिन जवाबदार विभाग अंजान बना हुआ है। निर्माण कार्य में चोरी की रेत का प्रयोग करने के बाद भी सही अनुपात में रेत व सीमेंट का मिश्रण नहीं किया जा रहा है ।

Published On:
Sep, 12 2018 08:41 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।