सीहोर नपाध्यक्ष अमिता अरोरा और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल अरोरा पर मामला दर्ज

Sunil Sharma

Publish: Sep, 12 2018 05:35:19 PM (IST)

न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ किया धोखाधड़ी का केश

सीहोर . कोतवाली थाना पुलिस ने नपाध्यक्ष अमिता अरोरा और उनके पति पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने जमीन के एक मामले में कुल पांच लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है।

जमीन से जुडा है मामला
एसपी राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि जमीन के एक मामले में बड़ा बाजार निवासी विनय रूठिया ने न्यायालय में याचिका दायरा की थी, जिस पर न्यायालय के आदेश पर अभियुक्त सुषमा नारंग पत्नी एसके नारंग 56 साल निवासी अरेरा कॉलोनी भोपाल, नपाध्यक्ष अमिता अरोरा पत्नी जसपाल सिंह अरोरा 55 साल, रवनीत अरोरा पुत्री जसपाल अरोरा 35 साल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा पिता अजीत सिंह 60 तथा एसके शर्मा नोटरी, अधिवक्ता सीहोर पर भादवि की धारा 191, 192, 193, 203, 420 467, 468 471, 120 बी के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

भाजपा से जुड़े अरोरा दम्पत्ति
धोखाधड़ी का यह मामला शहर में स्थित जमीन पर घटना दिनांक 26 फरवरी 15 से 25 जून 15 के बीच का है। ज्ञात हो कि अरोरा दम्पत्ति भाजपा से जुड़े हैं। इसके साथ ही कुछ समय पहले पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा जिला अस्पताल में डाक्टर से अभद्र व्यवहार के मामले में भी आरोपी बने थे। पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी पर 5 हजार का इनाम तक घोषित कर दिया था। शहर में यह मामला पूरे दिन चर्चा में बना हुआ है।

भाजपा की छवि पर पड़ेगा असर
लोगों का कहना है कि सीहोर नपाध्यक्ष अमिता अरोरा और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल अरोरा पर मामला दर्ज होने पर भाजपा के छवि पर असर पडेगा।

डेढ वर्ष पहले डॉक्टर को दी थी गालियां


जानकारी के मुताबिक डेढ वर्ष पहले कोतवाली थाना क्षेत्र के लुनिया मोहल्लागंज निवासी कक्षा 9वीं के स्टूडेंट ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके साथ मनीष नाम के एक युवक ने अप्राकृतिक कृत्य किया है। पुलिस ने एफआईअर दर्ज कर बच्चे को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा। परिजन ने डॉक्टरों पर मेडिकल नहीं करने के आरोप लगाए और नगरपालिका अध्यक्ष अमिता अरोरा के पति जसपाल अरोरा से मामले की शिकायत की। जसपाल अरोरा जिला अस्पताल पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्होंने डॉक्टर को न केवल भद्दी गालियां दीं, बल्कि कपड़े फाड़कर दौड़ाने की बात भी कह डाली। यही नहीं उन्होंने सिविल सर्जन के एक डॉक्टर से अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए मौके पर बुलाने की बात कही थी

More Videos

Web Title "Cheating case sehor municipality president"